छठ कर रहे लोगों के लिए जरूरी खबर, इस बार किए गए हैं कई चेंजेज

लाइव सिटीज डेस्कः राजधानी पटना में इस बार आस्था का महापर्व छठ को लेकर विशेष तैयारियां की जा रही हैं. पिछले बार से इस बार छठ में बिलकुल अगल व्यवस्था होगी. छठ के लिए दीघा के जहाज घाट से पटना सिटी तक इस बार गंगा किनारे 101 घाट बनेंगे. दुर्गापूजा के दौरान विसर्जन के लिए तैयार घाटों की स्थिति बेहतर है. प्रतिमा विसर्जन के बाद घाटों की सफाई भी जारी है. इस बार भी बाढ़ के बाद घाटों के आकार में बदलाव आया है. कुछ घाट छोटे हो गए हैं, कुछ गहरे हैं. कहीं दोबारा से स्लोप बनाने की तैयारी है.

बुडको ने अपने सभी 29 घाटों का टेंडर भी फाइनल कर दिया हैं. वहीं नगर निगम द्वारा बनाए जाने वाले 72 घाटों का निर्माण भी दो- तीन दिनों में शुरू हो जाएगा. बुडको तीन करोड़ में 29 घाट और नगर निगम पौने दो करोड़ में 72 घाटों को तैयार करेगा.

पिछले साल इन घाटों के ऊपर अर्घ्य देने के लिए तालाब बनाया गया था. इसमें किसी श्रद्धालु ने अर्घ्य नहीं दिया था. इस बार बुडको ने एक भी तालाब नहीं बनाने का फैसला लिया है. घाटों के पास सड़क, स्लोप और बैरिकेडिंग करने का निर्णय लिया गया है. सफाई और पानी की व्यवस्था निगम करेगा.

घाट नंबर 93 की स्थिति बेहतर है. रेलवे क्रॉसिंग से आगे एनआईटी हॉस्टल के पास से घाट तक जाने वाली सड़क भी ठीक है. घाट तक जाने के लिए पिछली बार बनाए गए 60 फीट चौड़े पैदल पथ की स्थिति भी बेहतर है. यहां पर घाट की लंबाई करीब चार सौ मीटर है. पानी में जाने के लिए बेहतर स्लोप है. पार्किंग के लिए भी अच्छी जगह है. दीघा, पाटलिपुत्र, आशियाना, राजीवनगर, एजी कॉलोनी, रामनगरी के लोग इस घाट पर आसानी से जा सकेंगे.

पाटीपुल घाट तक जाने के लिए श्रद्धालुओं को इस बार दो अंडरपास मिलेंगे. जेपी सेतु पर जाने के लिए बनाई गई सड़क ऊपर से गुजरती है. इस कारण इस बार नगर के रास्ते घाट तक पहुंचे के लिए लोगों को लेन नहीं मिलेगा. हालांकि, मूर्ति विसर्जन के लिए यहां सड़क से स्लोप बनाया गया है. घाट तक जाने के लिए लोगों को सिर्फ दीघा सब्जी बाजार के पास से जाने वाली दोनों सड़कों पर निर्भर रहना होगा. जेपी सेतु लेन बन जाने के बाद यहां गाड़ियों के लिए पार्किंग बेहद कम हो गई है.

छठ घाटों पर इंजामात को देखते हुए सौंदर्यीकरण, लाइटिंग, ध्वनि सिस्टम, संपर्क पथ, वाच टावर, चेंजिंग रूम, नियंत्रण कक्ष, शौचालय और स्वास्थ्य कैंप की पूरी व्यवस्था रहेगी.

यह भी पढ़ें-

बैंक ऑफ बड़ौदा ने तोड़ा है कानून, होगी 400 करोड़ की रिकवरी
बिहार में शराबबंदी के बाद अब ये है अगला टारगेट, आज CM नीतीश करेंगे आगाज
मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी
RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू
चांद बिहारी अग्रवाल : कभी बेचते थे पकौड़े, आज इनकी जूलरी पर है बिहार को भरोसा

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)