रघुवंश सिंह फिर तेवर में, कहा – राजद की सरकार बनने पर ‘नरम’ होगी शराबबंदी

लाइव सिटीज डेस्क : राजद की ओर से जदयू पर हमला और तेज कर दिया गया है. पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव के अलावा राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह और शिवानंद तिवारी लगातार हमला कर रहे हैं. लगातार दूसरे दिन मंगलवार को राजद के वरीय नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने एक बार फिर करारा प्रहार किया है. उन्होंने नीतीश कुमार के शराबबंदी अभियान को ही चुनौती दे डाला. बता दें कि रघुवंश सिंह ने सोमवार को भी जीतनराम मांझी और उपेंद्र कुशवाहा को लेकर बड़ा जदयू व नीतीश कुमार पर बड़ा प्रहार किया था.

राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश सिंह ने मंगलवार को दो टूक कहा कि बिहार में राजद की सरकार बनेगी, तो प्रदेश में शराबबंदी को लेकर बनाये गये कड़े कानून में नरमी लायी जाएगी. मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार उन्होंने यह भी कहा कि शराबबंदी को लेकर बनाये गये कानून से कड़ी सजा के प्रावधान को हटाया जाएगा. मंगलवार को रघुवंश सिंह एक न्यूज चैनल से बात कर रहे थे.

बता दें कि सूबे में शराब पर अंकुश लगाने को लेकर बिहार मद्यनिषेध और उत्पाद विधेयक-2016 लागू है. इसमें कड़ी सजा के प्रावधान हैं. शराबबंदी कानून के तहत 5 साल से लेकर उम्रकैद तक की सजा के प्रावधान किये गये हैं. इसी तरह इसमें नशे में पकड़े जाने पर एक लाख से 10 लाख रुपये तक जुर्माने को भी शामिल किया गया है. इसके अलावा भी कई तरह के प्रावधान हैं. गांव व शहर पर सामूहिक जुर्माना लगाने के प्रावधान बनाये गये हैं. गौरतलब है कि शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार लगातार अभियान चला रहे हैं. इसे लेकर पिछले साल पूरे बिहार में रिकॉर्ड मानव श्रृंखला बनायी गयी थी.

नीतीश कुमार के साथ नहीं रह सकते उपेंद्र कुशवाहा, राजद बहुत देने को तैयार है 

मंगलवार को शराबबंदी के बहाने राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश सिंह बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर खूब बरसे. उन्होंने कहा कि राजद की सरकार बिहार में बनेगी, तो शराबबंदी कानून में कड़ी सजा के प्रावधानों को हटाया जाएगा. शराबबंदी के नाम पर गरीब-गुरबों को परेशान किया जा रहा है. सोमवार को भी रघुवंश प्रसाद सिंह ने जदयू और एनडीए को काफी-कुछ कहा था. उन्होंने यहां तक कह दिया था कि एनडीए के कई बड़े नेता राजद के संपर्क में हैं. वे सब कभी भी वहां से बाहर निकल सकते हैं. हालांकि भाजपा के वरीय नेता व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने तुरंत ही पलटवार करते हुए कहा कि बिहार से लेकर दिल्ली तक एनडीए एक है. इसमें किसी तरह की कोई टूट नहीं है.