राजीव नगर गैंग रेप के आरोपी कर रहे थे शराब का धंधा, मामले में हुई दूसरी अरेस्टिंग

follow-up
पटना : राजीव नगर गैंग रेप मामले में एक नया खुलासा हुआ है. गैंग रेप करने वाले आरोपी शराब का धंधा कर रहे थे. दूसरे स्टेट से शराब पटना मंगवाते थे. राजधानी के जिस इलाके से शराब की डिमांड होती थी, वहां उसकी सप्लाई करवाते थे. पुलिस की नजरों से बचकर शराब का धंधा बड़े आराम से चलाया जा रहा था. शराब के स्टॉक को रखने के लिए किराए पर एक गोदाम भी ले रखा था.
दरअसल, ये मामला तब सामने आया, जब रविवार को गैंग रेप मामले में नेम्ड सर्वजीत को राजीव नगर थाने की पुलिस टीम ने अरेस्ट किया. इस मामले में रौशन के बाद ये दूसरी अरेस्टिंग है. सर्वजीत और रौशन दोनों ही फ्रेंड हैं. पीड़ित लड़की ने इन दोनों के साथ ही कुल 4 लड़कों को गैंग रेप का नामजद आरोपी बनाया था. अब दो नामजद आरोपी अब भी फरार चल रहे हैं. सर्वजीत को राजीव नगर इलाके से ही पुलिस की टीम ने अपने कब्जे में लिया.
पूछताछ और उसके खिलाफ मिले कुछ लिंक को खंगालने पर शराब का धंधा किए जाने की बात सामने आई. डीएसपी लॉ एंड आॅर्डर डॉ. मो. शिब्ली नोमानी की मानें तो राजीव नगर रोड नंबर 13 में एक गोदाम है. वहीं पर शराब की खेप को छीपाकर रखा जाता था. शराब के धंधे में रौशन और सर्वजीत केे साथ ही इनके वो दोनों फ्रेंड भी शामिल हैं, जिनकी तलाश गैंग रेप मामले में पुलिस का है.
सर्वजीत के निशानदेही पर गोदाम में छापेमारी की गई. वहां से 150 बोतल विदेशी शराब बरामद की गई है. दीपावली की शाम पीड़ित लड़की को सर्वजीत और रौशन ही बुलाकर अपने साथ ले गए थे. लड़की का आरोप है कि जिस गोदाम में शराब की खेप रखी जाती है, वहीं ले जाकर उसके साथ गंदा काम किया गया था. लड़की का आरोप है कि उस दिन रौशन और उसके साथियों ने शराब भी पी रखी थी.