संजय सिंह का बड़ा हमला : लालू प्रसाद की ‘ऊपरी आय’ अब ‘ओवरफ्लो’ करने लगी है

संजय सिंह जदयू (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : जदयू मुख्य प्रवक्ता और विधान पार्षद संजय सिंह ने बयान जारी करते हुए कहा है कि लालू प्रसाद की पूरी उम्र ही आय पर टिकी हुई है. ये आय सामान्य आय नहीं है. इनकी आय ‘ऊपरी आय’ होती है. इसको लेकर आजकल लगातार वे सीबीआई के चक्कर काट रहे हैं.

संजय सिंह ने कहा है कि उनकी पूरी उम्र इसी ऊपरी आय को इकट्ठा करने में गुजरी है. अब बाकी की उम्र इनकी सीबीआई, ईडी और आईटी के चक्कर में गुजरने वाली है. क्योंकि, उन्होंने इतनी ‘ऊपरी आय’ कर ली है कि अब वह ओवरफ्लो हो गयी है और जब कुछ ओवरफ्लो हो जाए, तो उसका यही नतीजा होता है कि वो ‘बेकार’ हो जाता है.

जदयू प्रवक्ता ने कहा कि लालू प्रसाद ‘घोटाले’ करते हैं और नीतीश कुमार ‘सुशासन’ लाते हैं. लालू यादव ‘अपहरण उद्योग’ लगाना चाहते हैं, तो नीतीश कुमार ‘इंडस्ट्री’ लगाना चाहते हैं. लालू प्रसाद ‘ऊपरी आय’ की बात करते हैं, तो नीतीश कुमार अपनी जिंदगी ‘वेतन’ पर गुजरते हैं. लालू यादव ‘परिवार’ को सर्वोपरी मानते हैं, तो नीतीश कुमार ‘समाज’ को सर्वोपरि मानते हैं. लालू प्रसाद ‘गरीबों की जमीन लिखवा’ लेते हैं, तो नीतीश कुमार ‘गरीबों को रहने के लिए जमीन’ देते हैं. लालू प्रसाद ‘पुत्र मोह’ में हैं, जबकि नीतीश कुमार ‘सेवाधर्म’ में हैं.

उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव को बिहार का उपमुख्यमंत्री बनने का पूरा मौका मिला था. वे चाहते तो बिहार में विकास होता. बिहार विकास की रफ्तार पकड़ता. लेकिन, राजद के सभी मंत्रियों ने बस ये ठाना हुआ था कि वह सत्ता में सिर्फ कमाने आए हैं, अकूत संपत्ति इकट्ठा करने आए हैं. लेकिन नीतीश कुमार के सुशासन के सामने इन सबकी एक न चली. तेजस्वी यादव की मंशा ईमानदार नहीं थी. वो राजनीति में सेवा भाव से नहीं आए थे. तेजस्वी यादव अपने पिता की विरासत में से बचे वोट पर युवराज बन गए थे. उनकी इच्छा नहीं थी कि वह बिहार के लोगों की सेवा करते, बिहार विकास करता. बस अपने पिता के नक्शे कदम पर चलने लगे थे. बातें बड़ी-बड़ी और काम जीरो.