शिवानंद तिवारी ने उठाया नीतीश के नेतृत्व पर सवाल, कहा- जिद ठान ली है…

शिवानंद तिवारी, फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्कः बिहार में सियासी उठापटक के बीच पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने फिर बयान दिया है. सीएम नीतीश कुमार के जीरो टॉलरेंस को ढोंग बताने वाले शिवानंद तिवारी ने अब उन्हें एक सलाह दी है. महागठबंधन में मचे घमासान को खत्म करने की सलाह. शिवानंद तिवारी ने नीतीश कुमार को आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद से बात करने को कहा है.

जदयू के पूर्व सांसद और वरिष्ठ नेता शिवानंद तिवारी ने कहा है कि महागठबंधन में ‘सब कुछ ठीक’ हो जाए इसके लिए नीतीश कुमार को लालू प्रसाद से बात करनी चाहिए. अगर गठबंधन में किसी प्रकार का झंझट है तो उसका समाधान आपसी बातचीत से ही निकलेगा. यह बिलकुल साधारण बात है. लेकिन ऐसा लग रहा है जैसे नीतीश कुमार ने जिद ठान लिया है. इससे तो नेतृत्व कौशल पर सवाल उठता है.

शिवानंद तिवारी ने आगे कहा कि पार्टियों की ओर से जो कुछ बोला जा रहा है वह भी गठबंधन की मर्यादा के विपरीत है. नीतीश के नाम पर बिलकुल अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल हो रहा है. नीतीश तो भाषा और शब्दों के चयन में बहुत सतर्क रहते हैं. फिर अपने लोगों की ऐसी भाषा सहन कैसे कर रहे हैं. बेवजह बिहार में अस्थिरता का माहौल बना हुआ है. मुझे पूरा यक़ीन है कि नीतीश-लालू की बातचीत से सारी समस्याओं का समाधान हो जाएगा. बहुत देर हो रही है. नीतीश जी को अविलंब बातचीत करनी चाहिए.

बता दें कि ये वही शिवानंद तिवारी हैं जिन्होंने कुछ दिनों पहले लालू प्रसाद से मुलाकात के बाद कहा था कि महागठबंधन की गाड़ी पटरी पर आ गई है. फिर कहा कि नीतीश का जीरो टॉलरेंस एक ढोंग है. और अब नीतीश कुमार के नेतृत्व कौशल पर ही सवाल उठा दिया है. जाहिर है कि शिवानंद तिवारी के इस बागी तेवर से सियासत गरमा गई है.

यह भी पढ़ें-

रघु’वार’ : डमी सीएम हैं नीतीश कुमार, लालू के हाथ में है सरकार की डोर
तेजस्वी का तंज : कहा- Dear RSS तनिक एको मंत्र ऐसा फूँको ना