IAS सीके अनिल को 15 दिनों में हाजिर होने का नोटिस, 7 महीनों से फरार हैं

ias-ck-anil12
IAS सीके अनिल (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्कः IAS सीके अनिल की मुश्किलें अब और बढ़ने वाली हैं. सहकारिता विभाग में एमडी के पद पर रहते कदाचार के मामले में नोटिस जारी किया गया है. नोटिस के मुताबिक सीके अनिल के जवाब से सामान्य प्रशासन असंतुष्ट है. 15 दिनों के अंदर जवाब देने का निर्देश मिला है. ऐसा नहीं करने पर विभाग ने बड़ी कार्रवाई की बात कही है. बता दें कि कंप्यूटर सेट और जनरेटर खरीद में गड़बड़ी का आरोप है IAS सीके अनिल पर.

मालूम हो कि IAS सीके अनिल पिछले 7 महीनों से फरार चल रहे हैं. इस मामले में सहकारिता विभाग ने हाजिर होने का निर्देश दिया है. अखबार में इश्तेहार निकालकर हाजिर होने का निर्देश दिया गया है. हाजिर होने का निर्देश सामान्य प्रशासन विभाग के अवर सचिव ने जारी किया है.



बता दें कि मेडिकल लीव के नाम पर लगातार छुट्टी पर चल रहे सीके अनिल को वापस ड्यूटी पर लाने के लिए लगातार दबाव बनाया जा रहा है. IAS सीके अनिल की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं. सरकार की ओर से उन पर लगातार प्रेशर बनाया जा रहा है. पेपर लीक मामले में नाम आने के बाद से वे ऑफिस नहीं आ रहे हैं.

सीके अनिल को ऑफिस आने के लिए सरकार की ओर से कई बार नोटिस भेजा जा चुका है. हाल ही में एक बार  फिर बिहार सरकार ने शिकंजा कसना शुरू किया तो उन्होंने फिर मेडिकल लीव एक्सटेंड करने का खत भेज दिया है. लेकिन अब सहकारिता विभाग उनके हाजिर नहीं होने को लेकर बड़ी कार्रवाई की बात कर दी है. अखबार में इश्तेहार दिया गया है.

मालूम हो कि 21 सितम्बर को एक बार फिर सीके अनिल के खिलाफ नोटिस भेजा गया था. इस बार सामान्य प्रशासन विभाग ने चेतावनी देते हुए यह नोटिस उनके आवासीय पता व उनके ईमेल एड्रेस पर भेजा है. नोटिस में 15 दिनों का समय दिया गया था. कहा गया था कि यदि निर्धारित समय के अंदर नोटिस का जवाब नहीं आता है तो उनके खिलाफ सरकार कड़ी कार्रवाई करेगी.