शिक्षकों को सरकार ने दिया बड़ा ऑफर, अब जब चाहिए तब होगा…

लाइव सिटीज डेस्कः प्रदेश के अप्रशिक्षित शिक्षकों के लिए केंद्र सरकार के निर्देश के बाद राज्य सरकार जब चाहो-तब परीक्षा योजना लेकर आई है. वैसे अप्रशिक्षित शिक्षक जो एनआईओएस से डीईएलएड कोर्स करेंगे. उनमें से यदि किसी शिक्षक का किसी विषय में पचास प्रतिशत से कम नंबर है तो वे अपनी सुविधा अनुसार संबंधित विषय की परीक्षा दे सकेंगे.

शिक्षा विभाग से मिली जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार के निर्देश पर नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपेन स्कूलिंग ने देशभर के अप्रशिक्षित शिक्षकों के लिए डीईएलएड कोर्स प्रारंभ किया है. इस कोर्स की मियाद उन्नीस महीने की है. कोर्स करने के लिए निबंधन की प्रक्रिया चल रही है.

निबंधन की जारी प्रक्रिया के दौरान ही जानकारी मिली कि अप्रशिक्षित शिक्षकों में बड़ी संख्या में ऐसे शिक्षक भी हैं जिनके किसी एक विषय में पचास फीसद से कम अंक हैं. डीईएलएड कोर्स के लिए सभी विषयों में पचास फीसद से अधिक अंक होने अनिवार्य हैं. इस समस्या के सामने आने के बाद नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपेन स्कूलिंग ने जब चाहो-तब परीक्षा योजना प्रारंभ की है.

योजना के तहत शिक्षकों को डीईएलएड कोर्स के साथ ही जिस विषय में पचास फीसद से कम अंक आए हैं उसकी भी पढ़ाई प्रारंभ करनी होगी. दोनों पढ़ाई एक साथ चलेगी। इस दौरान शिक्षक को जब लगेगा कि वह संबंधित विषय की परीक्षा के लिए तैयार है तो अपनी सुविधा के मुताबिक परीक्षा दे सकेगा. यदि संबंधित विषय की परीक्षा वे पास नहीं कर सकेंगे तो उन्हें प्रशिक्षित नहीं माना जाएगा.

About Md. Saheb Ali 4454 Articles
Md. Saheb Ali

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*