तेजस्वी का तंज : सुशील मोदी नकारात्मक राजनीति करते हैं, मेरा इस्तीफा मीडिया की देन

tejashwi.collage

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव इन दिनों सीबीआई की ओर से दर्ज एफआईआर में नाम आने के बाद से ही चर्चा में हैं. तभी से महागठबंधन में भी उथल-पुथल मचा हुआ है. बिहार की सियासत काफी गरम है. कैबिनेट की बैठक में तेजस्वी यादव आये तो पत्रकारों के साथ मारपीट का नया मामला हो गया. अब एक बार फिर उपुख्यमंत्री तेजस्वी यादव सोमवार को मीडिया के सामने आये.

सोमवार को मीडिया के सामने आये उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भाजपा के वरीय नेता व पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी पर जमकर निशाना साधा. इसके साथ ही उन्होंने मीडिया पर भी तंज कसा और कहा कि मेरे इस्तीफे की चर्चा मीडिया की देन है. इतना ही नहीं, तेजस्वी यादव ने राष्ट्रपति चुनाव में क्रॉस वोटिंग के बहाने एनडीए पर भी तीखा हमला किया. इसके साथ ही यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार के पक्ष में वोटिंग होने की भी बात कही.

tejashwi.collage

दरअसल तेजस्वी यादव सोमवार को विधानसभा राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोट कास्ट करने पहुंचे थे. वोट देने के ​बाद मीडिया ने उन्हें घेर लिया. भाजपा के वरीय नेता पर उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कमेंट करते हुए कहा कि सुशील मोदी नकारात्मक राजनीति करते हैं. वे नकारात्मक सोच से बाहर निकल ही नहीं सकते हैं. बेवजह लोगों को बदनाम करने की बात करते रहते हैं. असल में उनके पास इसके अलावा कोई काम ही नहीं है.

उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने कहा कि राजद व कांग्रेस का एक-एक वोट विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार को मिला है. क्रॉस वोटिंग के बाबत पत्रकरों के पूछे जाने पर तेजस्वी यादव ने कहा कि एनडीए को ही हार का डर सता रहा है. इसलिए वह बार-बार क्रॉस वोटिंग की बात कर रहा है. रिजल्ट का इंतजार करें. इसके लिए तेजस्वी यादव ने मीडिया पर भी निशाना साधा और कहा कि मेरे इस्तीफे की चर्चा मीडिया की देन है.

गौरतलब है कि लालू प्रसाद के 12 ठिकानों पर एक साथ पिछले दिनों सीबीआई छापेमारी की गयी थी. इसके पहले सीबीआई ने भ्रष्टाचार का मामला भी दर्ज किया गया था. दर्ज एफआईआर में लालू प्रसाद व राबड़ी देवी के अलावा उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को भी अभियुक्त बनाया गया है. तब से उन पर इस्तीफा देने का दबाव बना हुआ है. 12 जुलाई को तेजस्वी यादव जब कैबिनेट की बैठक में पहुंचे तो पत्रकारों ने उन्हें घेर लिया. स्थिति इतनी अधिक अफरातफरी हो गयी कि पत्रकारों पर सुरक्षा गार्डों ने बल प्रयोग किया. हालांकि सोमवार को तेजस्वी यादव से मिलने के क्रम में पत्रकार संयम में थे.

इसे भी पढ़ें : राष्ट्रपति चुनाव : नीतीश व सुशील मोदी नहीं दे पाएंगे कोविंद को वोट 
राष्ट्रपति चुनाव : पति को भाये कोविंद, तो पत्नी को मीरा…