…और मीडिया पर ही खिसिया गए तेजस्वी, कहा- हिम्मत है तो ‘उनसे’ करिए सवाल

लाइव सिटीज डेस्क/पटनाः सोमवार को डिप्टी सीएम का अलग चेहरा देखने को मिला. पत्रकारों के सवाल पर तेजस्वी भड़क उठे. बीजेपी नेता सुशील मोदी ने तेजस्वी-तेजप्रताप को निशाना बनाते हुए सीएम नीतीश से सवाल पूछा था. सवाल ये था कि नीतीश अपने दोनों मंत्रियों पर कार्रवाई कब करेंगे? इस पर जब तेजस्वी यादव से मीडिया के लोगों ने सवाल किया तो वो खिसिया गए. तेजस्वी यादव ने मीडिया पर भड़कते हुए कहा कि आपलोगों की अजब दोहरी नीति है? सुशील मोदी के आरोप को सच मान लेते हैं, लेकिन हमलोग जो आरोप लगाते हैं आपलोगों की हिम्मत नहीं है कि उनसे सवाल पूछ सकें?

तेजस्वी ने कहा कि इतिहास गवाह है कि जब जब जब लोगों ने कहा कि लालू जी खत्म हो गये वो उतनी मजबूती से उभरे हैं. उन्होंने कहा कि राजद के लगाए गए सभी आरोप सही है और अब हमलोग प्रमाणित करने को तैयार हैं. अगर आपलोगों में हिम्मत है तो इसे दिखाएं.

तेजस्वी यादव ने कहा कि चुनाव आयोग की गाइडलाइन से हिसाब से सबकुछ किया गया है. कुछ भी गैरकानूनी नहीं है. लालूजी प्रेस कांफ्रेस में अपनी बात कह चुके हैं. फिर भी आपलोगों को संतुष्टि क्यों नहीं होती है? उन्होंने कहा कि आखिर हमें बार-बार क्यों जवाब देना पड़ता है? हमलोग सुप्रीम कोर्ट से जीत चुके हैं और बार-बार एक ही परिवार की जांच की जांच क्यों हो?

इससे पहले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मिट्टी घोटाले पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा कि लालू यादव परिवार पर बीजेपी ने भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है. लालू जी इसका जवाब भी दे चुके हैं. अगर किसी के पास कोई तथ्य है तो उन्हें कोर्ट में जाना चाहिए. इसके अलाावा नीतीश ने यह भी साफ़ किया कि वो लालू यादव की पार्टी आरजेडी के साथ सरकार चला रहे हैं. इसका मतलब यह नहीं कि आरजेडी की विचारधारा उनकी पार्टी की भी विचारधारा है.

यह भी पढ़ें-
सुशील मोदी : जब केंद्र लालू के खिलाफ कार्रवाई करेगा, तो नीतीश किसके पक्ष में खड़े होंगे?
‘लालू चारा खा गए, अब नीतीश पशु खा जाएंगे’
RJD की रैली से कांप रही है BJP, बेचैनी में बयान दे रहे हैं भाजपा नेता