तेजस्वी ने डांटा भाई वीरेंद्र को, कहा- अपना काम करें

लाइव सिटीज डेस्क/पटनाः लालू परिवार पर लगे घोटाले के आरोपों को लेकर आरजेडी-जेडीयू में हो रही बयानबाजी पर डिप्टी सीएम ने कड़ा रुख अपनाया है. डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भाई वीरेंद्र को जदयू के खिलाफ दिए गए बयान पर फटकार लगाई है. तेजस्वी यादव ने तल्ख लहजे में कहा कि, भाई वीरेंद्र के बयान का कोई मतलब नहीं है. उनके बयान पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है. विधायकों को चाहिए कि वो बयानबाजी छोड़ अपना काम करें.

क्या कहा था भाई वीरेंद्र ने

बता दें कि भाई वीरेंद्र ने आरसीपी सिंह के बयान पर जेडीयू के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था. भाई वीरेंद्र ने कहा था कि राजद को कमजोर समझने की भूल जेडीयू न करे. आरसीपी सिंह खुद भ्रष्टाचार में लिप्त अधिकारी रहे हैं. उनका रिकॉर्ड बहुत साफ नहीं है. उनके कारनामों की पोटली खुलेगी तो बचना मुश्किल हो जाएगा.

भाई वीरेंद्र ने आगे कहा कि लालू जी चुनी हुई सरकार को पांच साल तक चलाना चाहते हैं. हमारे वोट पर ही जदयू सरकार में राज कर रहा है. साथ ही कहा कि इस सरकार में राजद के विधायक दुखी हैं, किसी का कोई काम नहीं हो रहा है. जदयू नेता सेटिंग कर अपने लोगों की पोस्टिंग करा रहे हैं. जदयू खुद को कंट्रोल में रखे, ज्यादा बयानबाजी न करें नेता.

बयान पर जेडीयू का पलटवार

भाई वीरेंद्र के इस बयान पर जदयू प्रवक्ता संजय सिंह ने पलटवार करते हुए उनको महागठबंधन में संपोला करार दिया है. सिंह ने कहा कि संपोले सांप बनें, उससे पहल उन्हें कुचल देना चाहिए. आरसीपी सिंह पर कोई टिप्पणी जदयू बर्दाश्त नहीं करेगा. महागठबंधन को नीतीश कुमार के चेहरे पर ही जीत मिली. इस बात को आरजेडी न भूले.

यह भी पढ़ें-

जदयू सब जानता है, 2008 में उन्हीं ने खोली थी लालू की पोल

साथ गए थे हाई प्रोफाइल महिला के फ्लैट में, फिर कैद हो गए जासूसी कैमरों में