तंत्र-मंत्र की शरण में तेजप्रताप, करा रहे हैं ‘दुश्मन मारण’ जाप

लाइव सिटीज डेस्क : एक बार फिर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के पुत्र तेजप्रताप यादव चर्चा में हैं. बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव इस बार अपने आवास पर जाप करा रहे हैं. वे इस बार ‘दुश्मन मारण’ जाप करा रहे हैं. इसके लिए वे अपने निजी आवास पर विशेष मड़ई तैयार किये हुए हैं. यह जाप बिहार की सियासत में हलचल मचा दिया है.

बता दें कि स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अपने रहन-सहन के तौर तरीकों की वजह से राजनीतिक गलियारों से लेकर सोशल मीडिया में बराबर छाये रहते हैं. कभी कभी मुरली बजाते हुए ‘कन्हैया’ बन जाते हैं तो कभी खुद से जलेबी छानने लगते हैं. और, कभी टमटम यानी रथ पर सवार होकर पटना की सड़कों पर निकल पड़ते हैं. यहां तक कि जमीन पर पालथी मार कर फाइल निबटाते हुए स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप को देखा गया है. अब नया मामला उनका ‘दुश्मन मारण’ जाप सामने आया है.

अप्रैल में पटना की सड़कों पर रथ पर निकले थे तेजप्रताप

मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव अपने निजी रेजिडेंस पर ‘दुश्मन मारण’ जाप करा रहे हैं. वे इसके लिए विशेष ढंग से मड़ई का निार्मण कराया है. सूत्रों की मानें तो वे वहां दो दिनों से इस जाप में लगे हुए हैं. चर्चा है कि यह जाप रात 8 बजे शुरू होकर 11 बजे तक चलता है और यह लगभग एक सप्ताह चलेगा. हालांकि यह भी कहा जा रहा है कि यह जाप किसी को क्षति पहुंचाने के लिए नहीं है, बल्कि इसे इसलिए किया जा रहा है कि उनके दुश्मनों के मन में उत्तम विचार आये. बताया जाता है कि जाप के दौरान तेजप्रताप लाल वस्त्र धारण करते हैं. इस दौरान वहां किसी को न जाने की इजाजत है और न ही फोटो खींचने की अनुमति है.

तब वाराणसी पूजा करने पहुंचे थे स्वास्थ्य मंत्री

राजनीतिक गलियारों में फुसफुसाहट हो रही है कि पिछले डेढ़ माह से भाजपा के वरीय नेता व पूर्व मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व उनके परिवार पर लगातार निशाना साध रहे हैं. उनके दोनों पुत्र तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव पर विशेष कर प्रहार किया जा रहा है. इसी को लेकर यह जाप कराया जा रहा है. हालांकि सूत्रों का कहना है कि इस जाप से उनके दुश्मनों के मन में उत्तम विचार आयेगा और उनकी वार की धार को थोड़ा कुंद किया जायेगा. बताया जा रहा है कि जाप करानेवाले पुजारी ने उन्हें काम होने की गारंटी दी है. कहा है कि यह जाप कभी निष्फल नहीं जाता है. पुजारी को दरभंगा से बुलाया गया है. मीडिया में आ रही रिपोर्ट के अनुसार इसके लिए उन्होंने 37 लाख की फोर्ड कार भी खरीदी है. पूर्णाहुति तक उन्हें पुरानी गाड़ी में नहीं चलना है.

‘कन्हैया’ बन तेजप्रताप ने अपने पिता से लिया आशीर्वाद

बता दें कि बिहार के स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव पिछले कई माह से अपने रहन-सहन के तौर-तरीकों से मीडिया से लेकर सोशल मीडिया में छाये रहते हैं. पिछले दिनों उन्होंने ‘कन्हैया’ बन कर अपने आवास पर जम कर बांसुरी बजायी थी. बांसुरी बजाते हुए उनका फोटो इतना वायरल हो गया था कि पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पटना दौरे दौरान तेजप्रताप से पूछा था – कैसे हो कन्हैया…!! सोशल मीडिया में उनका जलेबी छानने का फोटो भी खूब वायरल हुआ था. उन्होंने इसी साल सरस्वती पूजा के दौरान जलेबी छानने लगे थे. इसी तरह टमटम पर सवार हो पटना की सड़कों पर निकल पड़े थे. पिछले दिनों वाराणसी से लेकर मथुरा तक की भी अपने अंदाज व वेशभूषा में उन्होंने यात्रा की थी.

जलेबी छानने का अंदाज भी सोशल मीडिया पर खूब हुआ वायरल
इसे भी पढ़ें :   रथ पर सवार होकर सड़कों पर निकले तेजप्रताप, देखें तस्वीरों में… 
‘RSS ने माहौल बिगाड़ा तो बिहार बर्दाश्त नहीं करेगा’ 
लालू के बाद अब बेटों की बारी : तेजप्रताप ने सुमो को चेताया तो तेजस्वी का मीडिया से सवाल