घाटी में फिदायीन हमले की कोशिश नाकाम, CRPF ने मार गिराए 4 आतंकी

लाइव सिटीज डेस्कः घाटी में एक बार फिर से आतंकी हमला हुआ है. जम्मू-कश्मीर के बांदीपुरा में सीआरपीएफ ने फिदायीन हमले को नाकाम कर दिया. चार आतंकियों को मार गिराया. सोमवार की सुबह आतंकियों ने बांदीपुरा के सुंबल इलाके में सीआरपीएफ की 45वीं बटालियन के कैंप में घुसने के लिए फायर किया. आतंकियों ने पहले ग्रेनेड से हमला किया, फिर भारी गोलीबारी की. पहले से ही सतर्क जवानों ने इस हमले को पूरी तरह से नाकाम कर दिया.

एनकाउंटर के बाद इलाके में सीआरपीएफ का सर्च ऑपरेशन जारी है. मारे गए आतंकियों के पास से बरामद हथियार जब्त कर लिए गए हैं. आतंकी भारी मात्रा में हथियारों से लैस थे. पूरी तैयारी के साथ आए थे. इरादा कुछ नेक नहीं था. लेकिन सीआरपीएफ जवानों ने उनकी घुसपैठ की कोशिश नाकाम कर दिया.

4 AK-47 के साथ दर्जनों ग्रेनेड बरामद

मारे गए आतंकियों में दो विदेशी और दो स्थानीय हो सकते हैं. यह एनकाउंटर करीब 1 घंटे तक चला. बाद में सीआरपीएफ की मदद के लिए जम्मू-कश्मीर पुलिस भी आ गई. मारे गए आतंकियों के पास से चार AK-47  और दर्ज़नभर ग्रनेड के साथ भारी मात्रा मे गोला बारूद मिला है.

सीआरपीएफ के मुताबिक-हमले के लिए लश्कर के आतंकी जिम्मेदार हो सकते हैं. बड़ी बात यह कि इस ऑपरेशन में सीआरपीएफ को कोई नुकसान नहीं हुआ है. इसके लिए सीआरपीएफ की पोस्ट पर तैनात चौकन्ने जवानों की जितनी भी तारीफ की जाए, वह कम ही होगी. आपको यह बता दें कि ज्यादातर कैंपों पर फिदायीन हमले 3 से 4 बजे तड़के ही हुए हैं और उसमें आतंकी सफल रहे हैं. साथ ही सुरक्षाबलों को खासा नुकसान उठाना पड़ा है.

3 मई को ही आतंकियों ने कश्मीर के काजीगुंड में सेना के काफिले पर हमला कर दिया था, जिसमें दो जवान शहीद हुए और चार घायल. बाद मे आतंकी भाग निकले. उत्तर कश्मीर के सोपोर में सुरक्षा बलों ने 1 जून को उन दो आतंकियों को मार गिराया था, जिन आतंकियों ने एक दिन हमला कर चार पुलिसकर्मी को घायल कर दिया था. फिलहाल उत्तर कश्मीर में 100 के करीब आतंकी सक्रिय हैं, जिनमें अधिकतर विदेशी हैं, जबकि दक्षिण कश्मीर में भी करीब इतने ही आतंकी सक्रिय हैं, लेकिन उनमें स्थानीय आतंकियों की तादाद ज्यादा है.

जवानों ने मनाई खुशियां

आतंकियों को ढेर करने के बाद सीआरपीएफ के जवानों ने भारत माता की जय के नारे भी लगाए. जवानों में साफ तौर पर जीत का जश्न देखा जा सकता था.

यह भी पढ़ें-

जम्मू कश्मीर में फिर आतंकी हमला, 3 जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर

मुठभेड़ में मारा गया हिजबुल का टॉप आतंकी, बुरहान का साथी था सबजार भट्ट