CJM के घर हुई चोरी तो हिला प्रशासन, DGP बोले- SP तलाशें चोरों को

crime

कटिहार/पटना : व्‍यवस्‍था सहूलियत प्रदान करती हो, तो चोर कहीं भी घुस ही जायेंगे . ऐसा ही कटिहार में हुआ है . कटिहार के चीफ ज्‍यूडिशियल मजिस्‍ट्रेट (सीजेएम) साहब को क्‍या पता था कि चोर उनके घर को भी नहीं छोड़ेंगे . अभी ढ़ाई माह पहले 18 फरवरी को ही कटिहार में योगदान दिया था अनिल कुमार ने . बंगले पर पुलिस वाले भी सुरक्षा को तैनात थे,लेकिन चोरों ने सबों को मात दे दिया .

चोरी की रात (शुक्रवार) को सीजेएम अनिल कुमार बाहर गये हुए थे . फैमिली भी बंगले पर नहीं थी . हां,तैनात दो पुलिस वाले जरुर थे . अब सीजेएम साहब को क्‍या मालूम कि पुलिस वालों के रहते बंगले में चोरी हो जाएगी . वैसे भी जजों के बंगले को सिक्‍योर्ड माना जाता है . लेकिन,अनिल कुमार के साथ ऐसा हुआ नहीं .

शनिवार 28 अप्रैल की सुबह सीजेएम अनिल कुमार को खबर मिली कि उनके बंगले में चोरी हो गई है . जब सब कुछ देखा तो पाया कि चोरों ने निश्चिंतता के साथ चोरी की . बंगले को खंगाल देने को पूरा समय जाया किया . कुल दस लाख रुपये की संपत्ति ले गये चोर . इसमें कैश व अन्‍य सामान हैं . फिर कटिहार पुलिस को सूचना दी गई . पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया . crime

हड़कंप मचने से भी चोर नहीं पकड़ा गया . सीजेएम के बंगले में चोरी की खबर पटना में पुलिस हेडक्‍वार्टर तक पहुंची . तब सूबे के डीजीपी पी के ठाकुर को नोटिस लेनी पड़ी . अब परेशानी यह कि कटिहार में वे रिजल्‍ट देने को किस पुलिस अधिकारी को कहें . एसपी सिद्धार्थ मोहन जैन छुट्टी पर बाहर गये हुए हैं . और कोई बहुत काम का दिखा नहीं .

तब जाकर पड़ोसी जिले पूर्णिया के एसपी निशांत तिवारी को कहा गया कि वे जांच को खुद मानीटर करें . चोर पकड़े जाएं और हर हाल में चोरी गया सामान जब्‍त हो . निशांत तिवारी ने कार्रवाई शुरु की है . बंगले पर ड्यूटी को तैनात सिपाहियों को शक के घेरे में लेकर पूछताछ की गई है . इनके फोन का कॉल डिटेल्‍स भी निकाला जा रहा है . पर अभी कामयाबी नहीं मिली है . 

बताते चलें कि पिछले दिनों पटना के शास्‍त्रीनगर इलाके में मनबढ़े चोरों ने डीआईजी विकास वैभव के बंगले के आउटहाउस में घुसकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया था . इस मामले में भी पटना पुलिस अब तक चोरों को गिरफ्तार नहीं कर सकी है .

यह भी पढ़ें-  विकास वैभव ने तय किया टास्क,सीधे नपेंगे FIR न लिखने वाले थानेदार