पटना में दारोगा के घर लाखों की लूट, विरोध करने पर पत्नी को पिस्तौल की बट से पीटा

पटना/बाढ़ः आम लोगों की छोड़ दें अब अपराधी पुलिसकर्मियों के घरों को भी निशाना बना रहे हैं. जी हां, एक दारोगा के घर लूट की खबर है. लाखों की लूट. सिर्फ लूट ही नहीं हुई बल्कि विरोध करने पर मारपीट भी की गई है. दारोगा की पत्नी को पिस्तौल के बट से पीटा गया. वो भी इतनी बुरी तरह कि उनकी आंख जाते-जाते बची. घटना बाढ़ के नगर थाना इलाके में चोंदी मुहल्ला की बताई जा रही है.

10 लाख के जेवरात और 50 हजार नकदी लूटे

परिजनों के हिसाब से अनुमान लगाया जा रहा है कि तकरीबन 10 लाख के जेवरात के साथ-साथ 50 हजार नकदी की लूट हुई है. मुहल्ले के लोगों ने पुलिस को मामले की इत्तला दी. पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की पड़ताल की. योगेंद्र सिंह बेतिया के योगपट्टी मे बतौर दारोगा तैनात हैं. चोंदी मुहल्ला स्थित मकान में उनकी पत्नी रहती है. दारोगा की पत्नी पीड़िता विमला देवी ने बताया कि शाम दूध लेकर घर आने के बाद उसने घर के मुख्य गेट को बंद कर दिया. रात होते ही कमरे में सोने चली गई. उसका सुबह गंगा स्नान का प्रोग्राम था, इसलिए छोटा गेट खुला था.

आधी रात को पिस्तौल से लैस दो बदमाश उसके घर में घुसे. पिस्तौल का भय दिखाकर अपने कब्जे में ले लिया. पीड़िता ने बताया जब उसने विरोध करना चाहा तब बदमाशों ने पिस्तौल के बट से चेहरे पर मारकर जख्मी कर दिया. इसके बाद अलमारी में रखे 10 लाख के जेवर सहित 50 हजार नकद लूट कर कमरे में महिला को बंद कर फरार हो गए. बदमाशों के जाने के बाद महिला द्वारा शोर मचाए जाने पर मुहल्लेवासी और परिजन पहुंच गए. घटना की सूचना पुलिस को दी गई.

थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिन्हा ने बताया की पुलिस को अब तक कोई भी लिखित आवेदन प्राप्त नहीं हुआ है. पीड़ित परिवार द्वारा आवेदन मिलते ही मामले की जांच कर आगे की कार्रवाई की जाएगी. पहचान के लोगों के होने की आशंका जताई जा रही है.

महामुकाबला : भारत की फिर से विराट जीत, पाक को 124 रनों से धोया

TOPPER SCAM : कागजों पर चलने वाले इस स्कूल का जानिए पूरा सच