इतिहास हो जायेगा धनबाद का यह रेलवे लाइन, बिहार की ट्रेनें भी होंगी प्रभावित

लाइव सिटीज डेस्क : बात तो झारखंड की है, लेकिन बिहार से भी इसका सीधा कनेक्शन है. यहां के लोगों के लिए भी यह खबर बहुत जरूरी है. दरअसल झारखंड में स्थित धनबाद-चंदपुरा रेल लाइन अब इतिहास बनने जा रहा है. इस लाइन को बंद कर दिया जायेगा. बंद करने के आदेश को पीएमओ की ओर हरी झंडी में दे दी गयी है. इससे कई ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित होगा. इसमें बिहार से खुलनेवाली दो ट्रेनें भी शामिल हैं.

जी हां, बस चार दिनों के बाद से धनबाद-चंद्रपुरा रेलवे लाइन इतिहास हो जायेगा. आगामी 15 जून से इस लाइन केा बंद कर दिया जायेगा. इसे बंद करने की तैयारी काफी दिनों से की जा रही थी. डीजीएमएस, जिला प्रशासन और रेलवे बोर्ड की ओर से इसकी रिपोर्ट पीएमओ भेजी गयी थी. अब जाकर इस पर केंद्र ने अपनी मुहर लगा दी है. इसके बंद होने से धनबाद-चंद्रपुरा रेलवे लाइन अतीत की यादों में सदा के लिए दफन हो जायेगी.

Train

इस लाइन के बंद होने से इस रूट से 24 पैसेंजर और एक्सप्रेस ट्रेनें प्रभावित होंगी. इनमें हावड़ा-रांची शताब्दी एक्सप्रेस से लेकर रांची-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस, गरीब रथ एक्सप्रेस तक शामिल हैं. इनमें बिहार की भी तीन ट्रेनें शामिल हैं. तीनों ट्रेनें क्रमश: भागलपुर-रांची वनांचल एक्सप्रेस, भागलपुर-रांची एक्सप्रेस और पटना-हटिया पाटलिपुत्र एक्सप्रेस हैं. इनके अलावा कुछ ट्रेनें बिहार से होकर गुजरती हैं. इनमें रांची-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस शामिल हैं. इसके अलावा झारखंड की भी कई ट्रेनें शामिल हैं.

बताया जाता है कि धनबाद-चंद्रपुरा के बीच में 11 रेलवे स्टेशन पड़ते हैं. इनमें बांसजोड़ा, सिजुआ, कुसुंडा, बसुरिया, कतरासगढ़, सोनारडीह, टुंडू , बुदरा, फुलारीटांड, जमुनिया व दुग्धा स्टेशन शामिल हैं. इस रेललाइन से हर वर्ष औसतन 50 लाख यात्री टिकट लेकर सफर करते हैं. इससे रेलवे को करीब 10 करोड़ रुपये की इनकम है. इस रूट के बंद होने से रेलवे को सलाना 10 करोड़ का लॉस होगा, वहीं लोगों की परेशानी बढ़ जायेगी. वे लोग रोड पर डिपेंड हो जायेंगे. इससे उनकी पॉकेट भी ज्यादा ढीली करनी होगी.

सूत्रों की मानें तो धनबाद-चंद्रपुरा रेलवे लाइन के दोनों ओर घनी आबादी बसी हुई है. कोयला खदान के अलावा बीसीसीएल की कई कॉलोनियां भी बसी हुई हैं. और, ट्रेन के परिचालन के समय अनहोनी होने की आशंका बनी रहती है. हमेशा धसान का खतरा बना रहता है. ऐसे में सरकार कोई रिस्क लेना नहीं चाहती है. इसी के बाबत ट्रेनों का परिचालन बंद करने का फैसला किया गया है.

इस रूट से गुजरनेवाली प्रमुख ट्रेनें
1. रांची-भागलपुर एक्सप्रेस
2. रांची-भागलपुर वनांचल एक्सप्रेस
3. पटना-हटिया पाटलिपुत्र एक्सप्रेस
4. रांची-कामख्या एक्सप्रेस
5. रांची-दुमका इंटरसिटी
6. रांची-न्यू जलपाईगुड़ी एक्सप्रेस
7. कोलकाता-अहमदाबाद एक्सप्रेस
8. हावड़ा-भोपाल एक्सप्रेस
9. धनबाद-रांची इंटरसिटी
10. धनबाद-चंद्रपुरा पैसेंजर
11. धनबाद-झारग्राम पैसेंजर
12. हावड़ा-रांची शताब्दी एक्सप्रेस
13. धनबाद-केरल अलप्पुझा एक्सप्रेस
14. शक्तिपुंज एक्सप्रेस
15. रांची-गोरखपुर मौर्य एक्सप्रेस

 इसे भी पढ़ें : अब हवाई सफर का सपना होगा पूरा, ट्रेन से भी सस्ता हुआ किराया 
रेलवे ने जारी किया आदेश : सुपरफ़ास्ट-जनशताब्दी ट्रेनों में भी मरीजों को मिलेगा डिस्काउंट