…और महिलाएं उतारने लगीं टॉयलेट की आरती, पूजा के बाद जश्न भी हुआ

लाइव सिटीज डेस्कः गोपालगंज जिले के मांझा प्रखंड के कर्णपुरा पंचायत को ओडीएफ पंचायत घोषित किया गया. वहीं, इस मौके पर गांव की महिलाओं ने अपने घरों में बनाए गए नवनिर्मित शौचालय की सिर्फ पूजा अर्चना ही नहीं की, बल्कि महिलाओं ने अपने इस शौचालय को ‘इज्जत घर’ का नाम भी दिया है. मांझा प्रखंड का कर्णपुरा पंचायत आज ओडीएफ घोषित हो गया.

इस पंचायत के लिए आज का यह पल किसी बड़े जश्न से कम नहीं था. डीएम राहुल कुमार, डीडीसी सहित जिले के सभी आलाधिकारी और सैकड़ो लोग साइकिल चलाते हुए इस पंचायत में पहुंचे. यहां साइकिल रैली में शामिल लोगों का स्थानीय बच्चों, महिलाओं और लोगों ने भव्य स्वागत किया.

डीएम जब इस पंचायत के वार्ड नम्बर एक में पहुचे और यहां की सफाई का निरीक्षण किया तो सबकी निगाहें टिकी की टिकी रही गयी. इसके बाद इस गांव में एक अलग नजारा देखने को मिला. यहां जिन महिलाओं ने अपने घरों में शौचालय का निर्माण किया था, वे इस ऐतिहासिक पल में अपने शौचालय का टिका-चंदन लगाकर पूजा अर्चना की.

शौचालय की आरती उतारी फिर डीएम की मौजूदगी में महिलाओं ने अपने शौचालय का फीता काटकर उद्घाटन किया. डीएम राहुल कुमार ने कहा कि आज इस पंचायत के लिए ख़ुशी की बात है कि इस पंचायत को ओडीएफ घोषित किया गया.

यहां के जनप्रतिनिधियों ने दिन-रात मेहनत कर इस पंचायत को खुले में शौच से मुक्त किया है. डीएम ने कहा कि यहां की महिलाओं के बीच में काफी जागरूकता देखी जा रही है. यहां की महिलाओं ने अपने शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ रखा है और वे शौचालय की पूजा भी कर रही हैं.