रोहतास में मारे गए बक्सर के दो कुख्यात, पब्लिक के हत्थे चढ़ गए थे

बक्सर(शशांक सिंह) : रोहतास के दावथ में मारे गये चार अपराधियों में से दो बक्सर जिले के रहने वाले हैं. रंगदारी मांगने के तार बक्सर से जुड़े हुए हैं. सभी मारे गये अपराधी बक्सर के कब्जा गिरोह से जुड़े हुए हैं. जब्त मोबाइल से कई लोगों के नंबर मिले हैं. जिनका संबंध मारे गये इन अपराधियों से है.

फिलहाल पुलिस इस मामले में सीडीआर के आधार पर आगे की कार्रवाई में जुट गयी है. भीड़ द्वारा चारों अपराधियों की मारकर हत्या कर दी गयी. जिसमें सिमरी थाना क्षेत्र के दवनपुरा गांव का रहने वाला था तो दूसरा भी बक्सर के ही बभनपुरा गांव का संत दुबे का पुत्र अभिषेक दुबे बताया जा रहा है.

अभिषेक दुबे पर राजपुर थाने में एस्कार्पियो लूट का मामला दर्ज है. वहीं दूसरे अभिषेक पर जिले के किसी थाने में कोई आपराधिक मामला दर्ज नहीं है. शव लाने के लिए आज सासाराम परिजन पहुंचे थे. जहां पोस्टमार्टम और पुलिसिया कार्रवाई करने के बाद शव को सौंप दिया गया. विदित हो कि इसके पहले भी रणवीर सेना के पूर्व कमांडर धनजी सिंह की हत्या में भी बक्सर से तार जुड़े हुए थे.

रोहतास में मारे गये अभिषेक दुबे के गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ था. जो भी इस घटना को सुना वह सभी सन्न रह गये. किसी को यकीन नहीं हो रहा था कि अभिषेक अपराध की दुनिया में इतना आगे बढ़ गया था. कई बिंदुओं पर पुलिस की तफ्तीश जारी है.

शाहाबाद प्रक्षेत्र के डीआइजी मो. रहमान बुधवार को बक्सर पहुंचे. जहां घटना के संबंध में भी जानकारी ली. इसके साथ ही अपने मातहत अधिकारियों को अपराधियों की सूची तैयार करने का निर्देश दिया. उन्होंने कहा कि हाल के दिनों में जिस तरह से बक्सर के अपराधी अन्य जिलों में जाकर घटना को अंजाम दे रहे हैं. उन पर कड़ी नजर रखने की आवश्यकता है. जो भी फरार चल रहे हैं उन्हें जल्द से जल्द गिरफ्तार करे. इसके साथ ही कई कांडों की समीक्षा की.