बक्सर में बेपटरी होने से बचीं दो ट्रेनें, जा सकती थीं सैकड़ों जानें

बक्सर (शशांक सिंह) : दानापुर-मुगलसराय रेलरूट के चौसा स्टेशन पर शनिवार को बड़ा रेल हादसा होने से टल गया.   डाउन में जा रही दादर-गुवाहाटी एक्सप्रेस और अप के लिए रवाना सीमांचल एक्सप्रेस के सामने अचानक गाय आ जाने से दोनों ट्रेनें बेपटरी होते-होते बचीं. बताया जा रहा है कि ड्राइवर की सूझबूझ से एक बड़ा हादसा टल गया. घटना के बाद आंधे घन्टे तक अफरा-तफरी मची रही. जांच के बाद ट्रेनों को आगे के लिए रवाना किया गया. काफी देर तक रेल परिचालन बाधित रहा.

घटना के संबंध में ड्यूटी पर तैनात स्टेशन प्रबंधक ने बताया कि सुबह 9:45 बजे अप ट्रैक से 12487 अप सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन तेजी से चौसा स्टेशन क्रॉस कर रही थी. चौसा स्टेशन के समीप पोल संख्या 672/21 के पास अचानक ट्रैक पर गाय आ गई और ट्रेन से टकराने के बाद उछलकर डाउन ट्रैक पर चली गई.

उधर, डाउन ट्रैक पर 15645 लोकमान्य दादर-गुवाहाटी ट्रेन आ रही थी. जब तक चालक ट्रेन की गति कम करता गाय दादर- गुवाहाटी से टकरा गई और गाय ट्रेन के इंजन तथा पहिए में फंस गई. इसके बाद ट्रेन अचानक झटके खाने लगी.
खतरे को भांपते हुए चालक ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर ट्रेन की गति कम कर दी. बावजूद इसके ट्रेन मांस के लोथड़े लपेटे 100 गज दूरी घिसटती रही.  इधर, सीमांचल एक्सप्रेस ट्रेन के चालक ने भी ट्रेन रोक दी. घटना स्टेशन के पास होने से स्टेशन कर्मियों में अफरा-तफरी मच गई.

आनन-फानन में इसकी जानकारी कंट्रोल को दी गई. जिसके बाद पीडब्लूआई और चालक द्वारा दोनों ट्रेनों की जांच कर इंजन में फंसे मांस के टुकड़ों को हटाया गया. स्टेशन प्रबंधक एसबी सिंह ने बताया कि घटना के आधे घंटे बाद ट्रेनों हरी झंडी देकर रवाना कर दिया गया.

यह भी पढ़ें-
हाजीपुर में पुलिस-पब्लिक में हिंसक झड़प, भीड़ ने स्कॉर्ट गाड़ी को पलटा, लाठीचार्ज
बेतिया मेडिकल कॉलेज में ताबड़तोड़ फायरिंग, प्रबंधक को बंदूक की बट से पीटा