चौबे जी के गढ़ में बढ़ रहा है एड्स, तीन महीनों में 51 मामले आए सामने

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार में चमकी बुखार से मासूम बच्चों की लगातार हो रही मौतों के बीच एक और चौंकाने वाली ख़बर आ रही है. ख़बर ये है कि केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे के संसदीय क्षेत्र बक्सर में एड्स के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. बक्सर सदर अस्पताल में कार्यरत एड्स जांच केंद्र के परामर्शी शिव कृपाल दास ने जानकारी दी कि सिर्फ जून के महीने में 18 मामले प्रकाश में आए हैं.

बढ़ रहे हैं एड्स के मामले

जानकारी के मुताबिक HIV के संक्रमण की चपेट में पुरुषों के साथ ही महिलाएं और गर्भ में पल रहे शिशु भी आ रहे हैं. एड्स के लगातार बढ़ते हुए मामलों ने स्वास्थ्य विभाग की नींदे उड़ा दी है. बिहार में स्वास्थ्य विभाग चमकी बुखार को लेकर पहले से ही चारों तरफ से आलोचनाओं का शिकार हो रहा है. वहीं बक्सर में एड्स के मामलों वृद्धि स्वास्थ्य विभाग के लिए नई परेशानी बढ़ा रहा है. खास बात ये है कि बक्सर अश्विनी चौबे का संसदीय क्षेत्र है जो केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री हैं.

अश्विनी चौबे का संसदीय क्षेत्र है बक्सर

एड्स नियंत्रण सोसायटी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. अनिल कुमार सिंह के अनुसार बिहार से बाहर रोजगार के लिए जाने वाले लोग वहां से एड्स जैसी बीमारी लेकर लौट रहे हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे का संसदीय क्षेत्र होने के कारण ये और बड़ा सवाल हो जाता है कि ऐसे मामलों को लेकर सरकार गंभीर क्यों नहीं है. हालांकि इससे बचने का एकमात्र उपाय जागरूकता और सतर्कता ही है.

51 नए मामले आए सामने

बक्सर में एड्स के बढ़ते संक्रमण से कई परिवार काल के गाल में समा चुके हैं. ये बीमारी पिता से शुरू होकर जन्म होने वाले बच्चों और महिलाओं तक पहुंच रही है. बता दें कि बक्सर में साल 2003 में एड्स नियंत्रण विभाग की स्थापना की गई थी. 16 वर्षों में बक्सर में एड्स के कई मरीज मिले जिनमें कइयों की मौत हो गई तो कई आज भी जिंदगी से जंग लड़ रहे हैं. लेकिन साल 2019 में ये आंकड़ा काफी तेजी बढ़ रहा है जो चिंता का विषय है. इस साल अप्रैल में 18, मई में 15 और जून में 18 एड्स के मामले सामने आए हैं.

तेजस्वी यादव की राजनीति और RJD का भविष्य, तय हो जायेगा 5 जुलाई को?

 

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*