काम पर लौटे होम गार्ड्स, सरकार के आश्वासन के बाद हुई वापसी

पटना (नियाज़ आलम): समान काम के लिए समान वेतन की मांग को लेकर पिछले 70 दिन से कार्य बहिष्कार पर चल रहे बिहार गृह रक्षा वाहिनी के जवान शनिवार से काम पर लौट गए. पटना पुलिस कार्यालय परिसर स्थित रक्षा वाहिनी के जिला समादेष्ठा कार्यालय में सभी होम गार्ड्स का अराइवल हुआ यानि काम पर वापसी हुई. 

गृह रक्षा वाहिनी के जिला अध्यक्ष चन्द्रेश्वर प्रसाद के मुताबिक समान काम के लिए समान वेतन के सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद से गृहरक्षा वाहिनी ने सरकार से इसे लागू करने की मांग की. उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद से इसे कई राज्यों में लागू भी किया जा चुका है, लेकिन फिलहाल बिहार इस कड़ी में नहीं है. 

उन्होंने कहा कि अपनी मांगों को लेकर गृह रक्षा वाहिनी के जवान विगत 11 मार्च से शांतिपूर्ण तरीके से कार्य बहिष्कार पर थे. शनिवार को सरकार ने उन्हें आश्वासन दिया है कि इस मामले में जो भी उचित कदम होगा, वह उठाया जाएगा. प्रसाद ने कहा कि सरकार के आश्वासन के बाद सभी जिले के होम गार्ड्स अपने अपने जिला समादेष्टा कार्यालय में अराइवल के लिए पहुंच गए हैं.  

गृह रक्षा वाहिनी जिला अध्यक्ष ने कहा कि जब होमगार्ड्स एक पुलिसकर्मी की तरह काम करते हैं तो उन्हें उतनी ही सुविधा और वेतन भी मिलना चाहिए. उन्होंने कहा कि परिवार तो सबका है और इस महंगाई के समय में 10-12 हजार में घर चलाना काफी मुश्किल काम है. चन्द्रेश्वर प्रसाद ने कहा कि गृह रक्षा वाहिनी हर तरह से सरकार के निर्णय के साथ है. उन्होंने कहा कि सरकार जल्द से जल्द उनकी समस्याओं को समझते हुए उसका समाधान करे.

यह भी पढ़ें-  कैबिनेट का फैसला : सिपाही बनने के लिए इंटर पास होना अनिवार्य