मजबूरी के मुख्यमंत्री से विकास की उम्मीद, कैसे ? सीएम नीतीश पर तेजस्वी ने ऐसे कसा तंज

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने आज विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा से मुलाकात की. विधानसभा अध्यक्ष के ऑफिस में दोनों नेताओं की घंटों बातें हुई. मुलाकात बाद बाहर निकलने के दौरान तेजस्वी ने मीडिया से बात की. उन्होंने कहा कि बिहार की मौजूद सरकार से सभी वर्ग के लोग नाखुश है. युवा, कारोबारी, विद्यार्थी, बेरोजगार, जीविका दीदी ये सभी लोग इस सरकार से नाखुश है. इस सरकार में अधिकारी मांगने वालों पर लाठियां बरसायी जाती है.

उन्होंने कैबिनेट विस्तार को लेकर सीएम नीतीश के बयान पर आश्चर्य जताते हुए कहा कि  मंत्रिमंडल का विस्तार करना सीएम का विशेषाधिकारी होता है. इनके अनुशंसा पर ही राज्यपाल निर्णय लेते हैं. ऐसे में विस्तार नहीं होना यह साबित करता है कि मौजूदा सरकार में नीतीश कुमार की कुछ नहीं चल रही है. बीजेपी को कुछ और काम है जो नीतीश कुमार से करवाना है. आगे-आगे देखते जाइए क्या-क्या खेल होता है.



कैबिनेट विस्तार नहीं होने से बिहार की जनता का नुकसान हो रहा है. चोर दरवाजे से ये लोग सरकार में आए हैं. नीतीश कुमार खुद कहते हैं कि उन्हें जबरदस्ती सीएम बनाया गया, जिस व्यक्ति को जबरन सीएम बनाया गया हो उससे विकास की उम्मीद कैसे की जा सकती है. ऐसे में तो अगर बिहार में अपराध बढ़ रहा है तो उसके लिए नीतीश कुमार जिम्मेवारी नहीं होंगे ?.

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार शुरू से ही पल्ला झाड़ते रहे हैं. ऐसी सरकार बिहार के लिए अभिशाप के रूप में है. जनता नाखुश है. वहीं आरजेडी की यात्रा निकालने को लेकर उन्होंने कहा कि बहुत जल्द इसको लेकर निर्णय लिया जाएगा. सत्र को बचाते हुए यात्रा की तिथि तय की जाएगी. जनता ने जो आरजेडी को सरकार बनाने का आदेश दिया, लेकिन इनलोगों ने उसकी चोरी कर ली.