‘’हुजूर दो मिनट, सुन लीहल जाओ…ना, ना सुन लीहल जाओ, सर” सदन में MLA भागीरथी देवी की इस शैली पर जो गुस्से में थे वो भी हंसने लगे…

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार विधानसभा मॉनसून सत्र के चौथे दिन सदन में काफी हो हंगामा हुआ. सदन के अंदर पक्ष और विपक्ष के बीच कई मुद्दों पर गर्मा-गरम बहस हुई. वाद-विवाद के कारण सदन के अंदर का माहौल काफी गंभीर बना हुआ था. गंभीर माहौल के बीच आसन ने रामनगर से बीजेपी विधायक भागीरथी देवी का नाम पुकारा गया. नाम पुकारे जाने के बाद विधायक भागीरथी देवी ने अपना संबोधन शुरू किया. उनके संबोधन की शैली से सदन के सदस्य जिनके भौंहे तनी हुई थी, उनके चेहरे पर हंसी आ गयी. सदन का माहौल गंभीर से हल्का हो गया.

बीजेपी विधायक भागीरथी देवी ने भोजपुरी में अपनी समस्या को सदन के समक्ष रखा. उन्होंने आसन की ओर विनती करते हुए कहा कि ‘’हुजूर दो मिनट, सुन लीहल जाओ…ना ना सुन लीहल जाओ सर, हम ज्यादा ना बोलम, काम सहीं होखे के चाही, ओह पर जल्द से जल्द इन्क्वॉयरी बैठाकर काम अच्छा से करवा वल जाओ”.

उन्होंने नरकटियागंज में चांदनी चौक से ब्लॉक तक सड़क निर्माण कर रहे संवेदक के खिलाफ सदन में आवाज उठायी. उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण में संवेदक मनमानी कर रहा है. सड़क को पूरी तरह से उखाड़कर निर्माण कराने का निर्देश दिया गया है, लेकिन संवेदक ऐसा ना कर अपने तरीके से निर्माण कार्य करा रहा है. सिर्फ मिट्टी भर कर उसपर से पिचिंग करायी जा रही है. जिसका हमने विरोध किया है.

विधायक भागीरथी देवी ने आगे कहा कि जबतक मैं अपने क्षेत्र में थी तब तक संवेदक ने निर्माण कार्य शुरू नहीं किया. लेकिन जैसे ही मैं पटना आ गयी उसने काम शुरू कर दिया है. मैंने ही 20 साल पहले बतौर विधायक इस सड़क का निर्माण कराया था. इस बीच कितने विधायक आए और गए लेकिन जर्जर हो चुकी इस सड़क की ओर से किसी ने ध्यान नहीं दिया. इसलिए हुजूर इसकी पूरी जांच करायी जाए. सहीं काम कराया जाए.