टीम इंडिया ने करोड़ों फैन्स का तोड़ा दिल, 180 रनों से जीता पाक

लाइव सिटीज डेस्क:  भारत की सुस्त गेंदबाजी और लचर फील्डिंग के बाद असफल बल्लेबाजी ने करोड़ों प्रशंसकों को मायूसी दिला दी. भारतीय टीम के उपरी क्रम के बल्लेबाजों के निराशाजनक प्रदर्शन की बदौलत पाकिस्तान ने 180 रनों से जीत दर्ज कर  चैंपियंस ट्राफी पर कब्जा जमाया.

रविवार को भारत और पाकिस्तान के बीच लंदन के ‘द ओवल’ में खेले गए फाइनल मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया.पाकिस्तान की ओर से सलामी बल्लेबाज फखर जमान के शतकीय प्रहार (114) के बाद अजहर अली (59), मोहम्मद हफीज (नाबाद 57) और बाबर आजम (46) की कीमती पारियों की बदौलत पाकिस्तान ने भारत के खिलाफ चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में निर्धारति 50 ओवर में 4 विकेट गंवाकर 338 रन बनाए. जवाब में भारतीय टीम 30.3 ओवर में 158 रन पर ही ढेर हो गई. मोहम्मद आमिर और हसन अली ने 3-3 विकेट लेकर भारत की कमर तोड़ दी. पाकिस्तान पहली बार फाइनल में पहुंचा था और चैम्पियन बनकर वापस लौटा. इससे पूर्व तीन बार सेमीफाइनल के दरवाजे तक पहुंचा था.

आमिर का ट्रिपल अटैक
भारतीय पारी की तीसरी गेंद पर मोहम्मद आमिर ने रोहित शर्मा (0) को शून्य पर आउट कर दिया. विराट कोहली 05 रन बनाकर आमिर की गेंद पर शादाब खान को कैच थमा गए और पाकिस्तान को मिली दूसरी सफलता. इसके बाद शिखर धवन 21 रन बनाकर मोहम्मद आमिर की गेंद पर विकेटकीपर सरफराज़ अहमद को कैच थमा गए और भारत को लगा तीसरी झटका. इसके बाद युुवराज सिंह भी शादाब खान की गेंद पर 22 रन बनाकर एलबीडब्ल्यू आउट हो गए. युवराज के बाद धौनी भी 4 रन बनाकर हसन अली की गेंद पर इमाद वसीम को कैच थमा गए और भारत की आधी टीम लौटी पवेलियन.

केदार जाधव भी 9 रन बनाकर शादाब खान की गेंद पर सरफराज खान को कैच दे बैठे. इसके बाद मैच में जान हार्दिक पांड्या ने 43 गेंद पर 76 रन की धमाकेदार पारी खेलकर डाली लेकिन वो रन आउट होकर पवेलियन लौट गए.जडेजा 15 रन बनाकर जुनैद खान की गेंद पर बाबर आजम को कैच दे गए. अश्विन 1 रन बनाकर हसन की गेंद पर विकेटकीपर सरफराज़ अहमद को गेंद थमा गए और भारत का नौंवा विकेट गिरा. बुमराह भी 1 रन बनाकर हसन अली की गेंद पर विकेटकीपर को दे बैठे और पाकिस्तान ने पहली बार चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब पर कब्ज़ा कर लिया.

जाधव ने लिया आजम का विकेट
अजहर अली 59 रन बनाकर जसप्रीत बुमराह की शानदार फील्डिंग की वजह से रन आउट होकर पवेलियन लौट गए. आउट होने से पहले अजहर अली ने जमन के साथ मिलकर पाकिस्तान की तरफ से इस चैंपियन ट्रॉफी की सबसे बड़ी 128 रन की भी साझेदारी की. 114 रन बनाकर हार्दिक पांड्या की गेंद पर फखर जमन रवींद्र जडेजा को कैच दे बैठे और पाकिस्तान की दूसरी विकेट गिरी. शोएब मलिक 12 रन बनाकर भुवनेश्वर की गेंद कर केदार जाधव को कैच थमा दिया और भारत को मिली तीसरी सफलता. बाबर आजम 46 रन बनाकर जाधव की गेंद पर युवराज सिंह को कैच देकर लौट गए.

टीम इंडिया को महंगी पड़ी यह नोबॉल…
भारत ने चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में टॉस जीतकर पाकिस्तान को पहले बल्लेबाजी के लिए आ‍मंत्रित किया. भारतीय गेंदबाज पाकिस्तानी बल्लेबाजों पर दबाव बनाते दिखाई दे रहे थे ले‍किन टीम इंडिया को बुमराह की यह नो बॉल खासी महंगी पड़ गई. मैच का चौथा ओवर चल रहा था. बुमराह की गेंद पर शॉर्ट मारने के प्रयास में फखर जमान धोनी के हाथों में कैच दे बैठे. भारतीय खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई लेकिन अंपायर ने इस गेंद को नोबॉल करार दिया. इसके बाद अजहर अली और फखर जमान ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए न सिर्फ शतकीय साझेदारी की बल्कि पाकिस्तान को मजबूत स्थिति में भी पहुंचाया.

14 साल बाद पाकिस्तान ने किया यह कमाल
पाकिस्तानी सलामी बल्लेबाजों ने चैंपियन्स ट्रॉफी फाइनल में पहले विकेट के लिए शतकीय साझेदारी निभाकर अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दी. सेमीफाइनल मैच में भी इंग्लैड के खिलाफ पाकिस्तानी सलामी बल्लेबाजों ने शतकीय साझेदारी निभाई थी. 14 साल बाद यह मौका आया है जब पाकिस्तानी सलामी बल्लेबाजों ने दो लगातार मैचों में शतकीय साझेदारी निभाई. इससे पहले 2003 में न्यूजीलैंड के खिलाफ पाकिस्तान के सलामी बल्लेबजों ने लगातार दो मैचों में शतकीय साजेदारी निभाई थी. ज़मन के लिए यह चैंपियंस ट्रॉफी अच्छी गुज़र रही है. उन्होंने लगातार तीसरी बार अर्धशतक लगाया.

भारतीय टीम में नहीं हुआ कोई बदलाव
इस अहम मुकाबले में भारतीय टीम की तरफ से कोई बदलाव नहीं किया गया है. हालांकि इस मैच से पहले अश्विन की चोट को लेकर उनके खेलने पर थोड़ा संशय जरूर बना हुआ था, लेकिन विराट ने ये साफ कर दिया कि अश्विन आज के मुकाबले में खेल रहे हैं. वहीं पाकिस्तान की टीम में एक बदलाव किया गया है इस मैच में मोहम्मद आमिर की वापसी हुई है.

खत्म हुआ 10 साल का इंतज़ार
10 सालों के बाद ये पहला मौका है जब भारत और पाकिस्तान की टीम आइसीसी के किसी टूर्नामेंट के फाइनल में दो-दो हाथ कर रही है. इससे पहले 2007 टी-20 वर्ल्ड कप के फाइनल में इन दोनों टीमों का टकराव हुआ था. वहीं 50-50 ओवर के फॉर्मेट में भी भारत और पाकिस्तान टीम पहली बार आइसीसी के किसी भी टूर्नामेंट का फाइनल मैच खेल रही है.

टीम इंडिया का प्लेयिंग 11-

रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली, युवराज सिंह, एमएस धोनी, के जाधव, हार्दिक पंड्या  रविंद्र जडेजा, राम चंद्रन आश्विन, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह

पाकिस्तान प्लेयिंग 11-

अजहर अली, एफ जमान, बी आज़म, एम हफीज, एस मालिक, एस अहमद, आई वासिम, एक आमिर, एस खान, एच अली, जे खान.