‘आगे मौका मिला तो हम यह सब काम करेंगे’ रोहतास के दिनारा में बोले मुख्यमंत्री नीतीश कुमार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : रोहतास जिले के दिनारा में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने चुनावी सभा की. इस दौरान उन्होंने एनडीए प्रत्याशी व जेडीयू नेता जय कुमार सिंह के लिए जनता से वोट मांगा. सीएम नीतीश ने अगले पांच सालों में करने वालों को काम को गिनाया. उन्होंने कहा कि युवाओं को नई टेक्नोलॉजी की शिक्षा दी जाएगी. महिलाओं के लिए आगे और काम किया जाएगा. अब इंटर पास करने पर 25 हजार और ग्रेजुएट होने पर 50 हजार रूपया दिया जाएगा. हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने का काम किया जाएगा. गांव में जितना काम हुआ है उसकी देखभाल करने का काम किया जाएगा. हर गांव में सोलर स्ट्रीट लाइट लगायी जाएगी.

8-10 पंचायत पर पशु अस्पताल खोला जाएगा. पशुओं की दवा मुफ्त दी जाएगी. नवंबर तक गरीबों को केन्द्र सरकार मुफ्त में अनाज दिया जा रहा है. कोरोना काल में राज्य सरकार की ओर से 10 हजार करोड़ खर्चा किया गया. 50 हजार करोड़ की योजना केन्द्र सरकार की मदद मिल रही है.



कुछ लोग समाज में झंझटक खड़ा कर वोट लेना चाहते हैं. भागलपुर दंगा का जिक्र करते हुए सीएम ने कहा का आयोग गठित कर गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ ट्रायल शुरू किया गया. उन्हें सजा दी गयी. पीड़ित परिवार को पेंशन दिया जा रहा है.

हम बर्दाश्त नहीं कर सकते हैं, थ्री सी से कोई समझौता नहीं करेंगे. चंद लोग इधर उधर तो करेंगे ही. लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. बिहार का पुराना गौरव लौटाने पर काम किया जा रहा है.  

वहीं बिना नाम लिए उन्होंने लालू-राबड़ी शासनकाल पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि 15 साल पहले बिहार की स्थिति से कौन अवगत नहीं है. कारोबारी भाग गए थे. अपहरण का धंधा चल रहा था. शाम में लोग अपने घरों से निकलते नहीं थे. कुछ लोग जानते कुछ नहीं है लेकिन कुछ ना कुछ बोलते रहते हैं. लेकिन मुझपर इसका असर नहीं पड़ता है.

समाज के हर तबके के विकास के लिए हम लोगों ने काम किया. समाज के हाशिये पर खड़े लोगों को समाज के मुख्य धारा में जोड़ा गया. महिलाओं के उत्थान का काम किया गया. पोशाक और साइकिल योजना चलाकर स्कूलों में लड़कियों की संख्या बढ़ायी गयी. लड़कियों के बाद 2010 में लड़कों के लिए साइकिल योजना चलाया गया.

पति पत्नी में पत्नी को राज चलाने का मौका मिल गया. लेकिन महिलाओं के उत्थान के लिए कुछ नहीं किया गया. पंचायती राज में महिलाओं को मौका तक नहीं दिया. हम लोगों ने पंचायत चुनाव में 50 फीसदी का आरक्षण दिया गया. पिछड़ा, अतिपिछड़ा को मौका मिला. अब समाज के लोग उनके भी दरवाजे पर जाने लगे.

पहले अपहरण कर लिया जाता था. कुछ कमाने वालों की खैर नही थी. क्या स्थित थी. अपराध के मामले में बिहार का नंबर 23वां है. पहले विकास से कोई काम में रूचि नही थी. पहले सिर्फ अपना विकास किया. जिस कारण आज अंदर चला गया. अभी कौन-कौन अंदर जाएगा पता नहीं है.

विकास दर 12.50 फीसदी की दर से बढ़ रही है. प्रति व्यक्ति आय में बढ़ोतरी हो रही है. कुछ लोगों को हम देख रहे हैं बयान देता है भड़काने का काम करता है. जिनको अक्षर का ज्ञान नहीं उनके परिजन को 15 साल का राज करने का मौका मिला, लेकिन क्यों नहीं किया.

बिहार में पर्यावरण के क्षेत्र में इतना काम किया उसकी चर्चा यूएन में हुआ. 24 सितंबर को हमें यूएन की सभा में आमंत्रित किया गया. जो काम हम कहते हैं वो करते हैं. प्रजनन दर कम करने की दिशा में काम किया जा रहा है. यूरेका की भावना आयी तो हमने सोचा कि अगर बच्चियों को 12वीं तक पढ़ा दिया जाए तो प्रजनन दर कम हो जाएगा.

गरीब सवर्णों के लिए जब आरक्षण केन्द्र ने लागू किया तो बिहार में जल्दी से पास करा दिया गया. पिछड़ा, अति पिछड़ा, दलित, महादलित वर्ग के विकास के लिए काम किया गया. समाज के हर वर्ग के विकास के लिए काम किया गया.

युवाओं के लिए स्वयं सहायात भत्ता दी जा रही है. कुशल युवा कार्यक्रम चलाया गया. महिलाओं को सरकारी सेवाओं में 35 प्रतिशत का आरक्षण दिया गया. पुलिस बल में महिलाओं की संख्या देश के अन्य राज्यों से ज्यादा है.

15 साल उनलोगों ने राज किया बिजली दिनों दिन कम होता चला गया. 700 मेगावाट बिजली मिलती थी. लेकिन अब 6 हजार मेगावाट के ज्यादा बिजली का आपूर्ति हो रही है. हर घर नल का जल का काम लगभग पूरा हो गया. हर घर पक्की नाली, गली का निर्माण का काम पूरा कर लिया गया.