TET पास को अभी करना होगा इंतजार, सरकार अभी नहीं है तैयार

लाइव सिटीज डेस्क : TET पास कर चुके लोगों को शिक्षक बनने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा. राज्य के प्रारंभिक स्कूलों में शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया तत्काल शुरू नहीं होने वाली है. मतलब साफ है कि सरकार शिक्षकों की वर्तमान संख्या के आधार पर प्रारंभिक शिक्षा की गाड़ी को आगे बढ़ाने की तैयारी कर रहा है.

वर्ष 2016 में प्रारंभिक स्कूलों (प्राथमिक मध्य विद्यालयों) में शिक्षकों की संख्या को बढ़ाने पर काफी बहस हुई. सरकार पर दबाव था कि शिक्षक-छात्र अनुपात को कम से कम 40 छात्र पर एक शिक्षक देने तक लाया जाए. हालांकि, अभी नियोजन प्रक्रिया को लेकर विभागीय स्तर पर कोई कवायद नहीं चल रही है.
इसके लिए प्रत्येक जिले में सर्वे कराए गए. शिक्षक-छात्र अनुपात, दैनिक उपस्थिति अनुपात अन्य संसाधनों के अनुपात के आधार पर तत्काल प्रारंभिक स्कूलों में 85,458 शिक्षकों की जरूरत मानी गई. सर्व शिक्षा अभियान के तहत शिक्षक नियोजन की प्रक्रिया को पूरा किया जाना तय हुआ.

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति को वर्ष 2011 के बाद एक बार फिर शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) आयोजित कराने के लिए प्रस्ताव भेजा गया. बिहार बोर्ड की ओर से टेट का आयोजन भी किया गया जिसका रिजल्ट भी आ गया है.

37,151 अभ्यर्थी टेट में पास घोषित किए गए हैं. लेकिन, इन पास अभ्यर्थियों को नियोजन का मौका कब मिलेगा, यह सबसे बड़ा प्रश्न बन गया है. विभागीय स्तर पर अभी तक नए सिरे से नियोजन प्रक्रिया को शुरू करने के लिए आवश्यक कार्यक्रम तैयार नहीं किए गए हैं. सरकार ने यह भी तय नहीं किया है कि किस प्रकार शिक्षकों को नियोजित करना है? कितने शिक्षकों को नियोजित करना है. विभागीय सूत्रों की मानें तो अगले वित्तीय वर्ष में ही नए टेट के आधार पर चुने गए अभ्यर्थियो को नियोजन प्रक्रिया में भाग लेने का मौका मिलेगा.

यह भी पढ़ें-  शिक्षक छात्रों को मन लगा कर पढाएं, खूब मिलेगी इंसेंटिव

बीएड डिग्रीधारी टीचरों को करनी होगी 6 महीने की यह जरूरी ट्रेनिंग

RING और EARRINGS की सबसे लेटेस्ट रेंज लीजिए चांद​ बिहारी ज्वैलर्स में, प्राइस 8000 से शुरू

PUJA का सबसे HOT OFFER, यहां कुछ भी खरीदें, मुफ्त में मिलेगा GOLD COIN

अभी फैशन में है Indo-Western लुक की जूलरी, नया कलेक्शन लाए हैं चांद बिहारी ज्वैलर्स

मौका है : AIIMS के पास 6 लाख में मिलेगा प्लॉट, घर बनाने को PM से 2.67 लाख मिलेगी ​सब्सिडी

(लाइव सिटीज मीडिया के यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)