बिहार में शराबबंदी को बीजेपी के इस नेता ने बता दिया फेल, मुख्यमंत्री से पूछा- कब होगी बड़े अधिकारियों पर कार्रवाई?

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क : बिहार (Bihar) में शराबबंदी (liquor ban) के कारण बढ़ते अपराधिक वारदात पर अब अपने भी उंगली उठाने लगे हैं. जेडीयू (JDU) के साथी बीजेपी (BJP) के नेता शराबबंदी का खुलकर मुखालफत करने लगे हैं. बीजेपी विधानपार्षद (MLC) व पूर्व केन्द्रीय मंत्री संजय पासवान (Sanjay Paswan) ने तो यहां तक कह दिया कि सिर्फ छोटे अधिकारियों पर ही क्यों बड़े अधिकारियों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए. फिर से इस कानून पर विचार करना चाहिए.

संजय पासवान ने कहा कि मैं मानता हूं कि सरकार हमारी है. सारा महकमा उसी में लगा हुआ है. फिर भी वारदात हो रही है, जो चिंता का विषय है.  दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए. कानून को ठीक से लागू नहीं किया गया. सरकार को इस पर विचार करना चाहिए. सरकार को इस पर चर्चा करनी चाहिए. लापरवाही के कारण इस प्रकार की वारदाते हो रही है. इतनी बड़ी घटनाएं हो रही है वो चिंता की बात है. छोटा अधिकारी फंस जाता है बड़ा अधिकारी पर भी कार्रवाई होनी चाहिए. फिर से विचार करना होगा.

सीतामढ़ी घटनाक्रम पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि इस कांड के जो भी दोषी हो उसपर गृह सचिव आमिर सुबहानी को कार्रवाई करनी चाहिए. दोषी चाहे जो कोई भी हो उसको कठोर से कठोर सजा मिलनी चाहिए. ताकि फिर से ऐसी कोई हिमाकत नहीं कर सके.

बता दें कि सीतामढ़ी के मेजरगंज थाना क्षेत्र में शराब तस्करों और पुलिस के बीच हुई मुठभेड़ में दारोगा दिनेर राम शहीद हो गए. इस घटना के बाद विपक्ष जहां सरकार पर हमलावर है वहीं सत्तापक्ष के लोग शराबबंदी कानून की फिर से समीक्षा करने की बातें कहने लगे हैं.