तीसरे चरण में इन 12 मंत्रियों समेत 1205 प्रत्याशियों की प्रतिष्ठा दांव पर, 7 तारीख को 78 सीटों पर होगा मतदान

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : तीसरे चरण की वोटिंग 7 नवंबर को होगी. इस चरण में कुल 1205 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. इसमें 110 महिलाएं हैं. बिहार के 15 जिलों पश्चिम चंपारण, पूर्वी चंपारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सहरसा, दरभंगा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर में वोटिंग होगी. वहीं पोलिटिकल डेटा के अनुसार, इस फेज में सबसे ज्यादा आरजेडी 66 सीटों पर चुनाव लड़ रहा है. वहीं महागठबंधन के घटक दलों में शामिल कांग्रेस 25, माले 7 व सीपीआई दो सीटों पर उम्मीदवारों को उतारा है. इसके अलावा एनडीए की ओर से बीजेपी 35, जेडीयू 37, व वीआईपी 5 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. वहीं, लोजपा 41, जाप 50 तथा रालोसपा 25 सीटों पर चुनाव लड़ रही है.  इन मंत्रियों की किस्मत दांव पर…

जदयू कोटे के मंत्री…



सुपौल : बिजेंद्र प्रसाद यादव

सुपौल में ऊर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव को जदयू ने अपना उम्मीदवार बनाया है. यहां से बिजेंद्र यादव सात बार से लगातार जीत रहे हैं. वे आठवीं बार फिर अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

आलमनगर : नरेंद्र नारायण यादव

आलमनगर विधानसभा क्षेत्र में भी रोचक मुकाबला है. यहां से लघु जल संसाधन मंत्री नरेंद्र नारायण यादव को जदयू ने उतारा है. उनका मुकाबला राजद के नवीन निषाद से है.

बहादुरपुर : मदन सहनी

दरभंगा के बहादुरपुर विधानसभा क्षेत्र में 2015 में मदन सहनी जीते थे. वे नीतीश सरकार में खाद्य आपूर्ति मंत्री बने. मदन सहनी का मुकाबला यहां राजद से रमेश चौरसिया से है.

कल्याणपुर : महेश्वर हजारी

कल्याणपुर में जदयू नेता एवं उद्योग मंत्री महेश्वर हजारी की प्रतिष्ठा दांव पर है. उन्हें जदयू ने फिर अपना उम्मीदवार बनाया है. हजारी का मुकाबला माले के रंजीत राम से है. 

सिकटा : खुर्शीद आलम

सिकटा में जदयू नेता एवं अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री खुर्शीद आलम पर पार्टी ने फिर भरोसा किया है. इस बार खुर्शीद आलम का मुकाबला माले के वीरेंद्र प्रसाद गुप्ता से है.में आरपार की लड़ाई है।

लौकहा : लक्ष्मेश्वर राय

आपदा प्रबंधन मंत्री एवं जदयू नेता लक्ष्मेश्वर राय का मुकाबला राजद के भारत भूषण मंडल से है. यहां से लोजपा से बीजेपी के बागी उम्मीदवार प्रमोद प्रियदर्शी चुनौती दे रहे हैं.

रूपौली : बीमा भारती

रूपौली सीट महागठबंधन की ओर से सीपीआई के खाते में गई है. यहां से जदयू नेता एवं गन्ना विकास मंत्री बीमा भारती को एनडीए ने उतारा है. सीपीआई से विकास चंद्र मंडल प्रत्याशी हैं.

सिंहेश्वर : रमेश ऋषिदेव

सिंहेश्वर विधानसभा क्षेत्र सुरक्षित है. यहां से जदयू कोटे से बने मंत्री रमेश ऋषिदेव को पार्टी ने फिर अपना प्रत्याशी बनाया है. 10 नंवबर को पता चलेगा कि मंत्री की परीक्षा कैसी रही.

बीजेपी कोटे से आने वाले मंत्री…

मुजफ्फरपुर : सुरेश शर्मा

मुजफ्फरपुर से भाजपा नेता एवं नगर विकास मंत्री सुरेश शर्मा फिर उम्मीदवार बने हैं. यहां से कांग्रेस ने बिजेंद्र चौधरी को चुनाव मैदान में उतारा है. वे लगातार दूसरी बार मैदान में हैं.

मोतिहारी : प्रमोद कुमार

मोतिहारी में भाजपा नेता एवं कला संस्कृति मंत्री प्रमोद कुमार की प्रतिष्ठा दांव पर है. उन पर बीजेपी ने फिर भरोसा किया है. उनके सामने महागठबंध की ओर से राजद के ओमप्रकाश चौधरी हैं.

बेनीपट्टी : विनोद नारायण झा

बेनीपट्टी में बीजेपी नेता एवं लोकस्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री विनोद नारायण झा चुनाव लड़ रहे हैं. कांग्रेस की भावना झा के बीच मुकाबला है. 2015 में भावना झा यहां से जीती थीं.

बनमनखी : कृष्ण कुमार ऋषि

बनमनखी विधानसभा क्षेत्र बीजेपी के कोटे में गया है. यहां से पार्टी के कद्दावर नेता एवं पर्यटन मंत्री कृष्ण कुमार ऋषि को पार्टी ने उतारा है. उनके सामने राजद ने उपेंद्र शर्मा को उतारा है.