डालमियानगर में रेल मरम्मती कारखाना जल्द चालू कराने को लेकर रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मिले उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार के रोहतास जिले के डालमियानगर में 2015-16 से प्रस्तावित रेल मरम्मती कारखाना को शुरू कराने और बिहार के अन्य क्षेत्रों में रेल परियोजनाओं को लेकर उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने दिल्ली में केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात की. डालमियानगर औद्योगिक क्षेत्र को पुनर्जीवित करने के लिए 2015-16 में रेल मंत्रालय की पहल से रेल मरम्मती कारखाना लगाने का काम शुरू हुआ था. लेकिन डेडीकेटेड फ्रेट कॉरिडोर कंपनी (DFCC) के साथ रेल कनेक्टिविटी की समस्या उत्पन्न होने की वजह से ये महत्वाकांक्षी परियोजना मूर्त रूप नहीं ले सकी.

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से मुलाकात कर आग्रह किया है कि डालमियानगर औद्योगिक क्षेत्र से रेल कनेक्टिविटी की समस्या को दूर कर यहां प्रस्तावित रेल मरम्मती कारखाना को चालू कराने का काम जल्द से जल्द शुरू करें. डालमियानगर में रेल मरम्मती कारखाना लगाने का काम रेल मंत्रालय द्वारा भारत सरकार के उपक्रम RITES (Rail India Technical and Economic Service) को सौंपा गया था. इस परियोजना के शुरू होने की खबर से कभी औद्योगिक क्षेत्र के नाम पर बिहार की शान रही डालमियानगर के आसपास के लोगों को बड़ी उम्मीद जगी थी. लेकिन रेल कनेक्टिविटी को लेकर आई दिक्कतों की वजह से यह सपना साकार नहीं हो सका.

केंद्रीय रेल मंत्री से मुलाकात के बाद मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि हाल ही में उन्होंने रोहतास जिले के दौरे के दौरान डालमियानगर औद्योगिक क्षेत्र को फिर से पुनर्जीवित करने के लिए प्रयास करने की बात की थी. इसीलिए केंद्रीय रेल मंत्री से मुलाकात कर उन्हें सभी मौजूदा स्थितियों से अवगत कराया है और कोशिश की है कि रेल मरम्मती कारखाना फिर से शुरू हो सके. उन्होंने कहा कि डालमियानगर में रेल मरम्मती कारखाना शुरू होने से यहां अन्य उद्योगों को भी बढ़ावा मिलेगा, इलाके की खोई हुई रौनक वापस लौटेगी, साथ ही स्थानीय लोगों को बड़े पैमाने पर रोजगार मिलेगा. उन्होंने कहा कि रेल मंत्री से मुलाकात के दौरान सुपौल, भागलपुर और बिहार के अन्य क्षेत्रों से जुड़े रेल परियोजनाओं को लेकर भी रेल मंत्री से विस्तार से बात हुई.

उन्होंने कहा कि चिट्ठी सौंपकर सुपौल – अररिया – गलगलिया रेल लाइन निर्माण के काम में तेजी लाने का आग्रह किया है और सहरसा पटना के बीच चल रही कुछ ट्रेनों के सरायगढ़ तक एक्सटेंशन के लिए भी रेलमंत्री से बात की है. मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि उन्होंने रेल मंत्री से बिहार में रेल से जुड़े अन्य उद्योगों की स्थापना के लिए भी अनुरोध किया है.