जगन्नाथ मिश्रा ने मुंह खोला, बता दिया कि लालू प्रसाद को किसने फंसाया

lalu prasad, jagannath mishra
पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्र और लालू प्रसाद

लाइव सिटीज डेस्क: चारा घोटाला में लालू प्रसाद को दोषी करार दिए जाने से बिहार की सियासत गरमाई हुई है. खूब बयानबाजी हो रही है. राजद से बीजेपी और नीतीश कुमार पर आरोपों की झड़ी लग रही है. कहा जा रहा है कि लालू प्रसाद को बीजेपी ने साजिश के तहत फंसाया है. लेकिन इस मामले में बरी हुए बिहार के पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा ने बड़ा बयान दे दिया है. जगन्नाथ मिश्रा ने इसके पीछे कांग्रेस नेताओं का हाथ बताया है. साथ ही मिश्रा ने यह भी बताया कि उनका नाम किसने इस घोटाला में शामिल कर दिया.

एच डी देवेगौड़ा पूर्व पीएम (फाइल फोटो)

उन्‍होंने कहा कि एचडी देवगौड़ा ने लालू यादव को चारा घोटाले में फंसाया है. बीजेपी के उपर लालू और उनकी पार्टी जो आरोप लगाते हैं, वह गलत है. पूर्व मुख्‍यमंत्री मिश्रा ने कहा कि जिस समय चारा घोटाला का मामला सामने आया था उस समय इंद्र कुमार गुजराल और एचडी देवगौड़ा की सरकार थी. देवगौड़ा  ने ही लालू को चारा घोटाले में फंसाया. जोगिंदर सिंह जिंदा होते तो जगन्नाथ मिश्रा की रिहाई पर उनका माथा फट गया होता



बरी होने के बाद जग्‍गनाथ मिश्रा ने फिर से सफाई देते हुए कहा कि इस घोटाले में मेरा नाम बेवजह शामिल किया गया था.  यह सब तत्कालीन कांग्रेस अध्‍यक्ष सीताराम केसरी ने किया. वे उत्‍तर भारत के नेताओं को बढ़ते नहीं देखना चाहते थे. यही वजह है कि उत्‍तर भारत में कांग्रेस कमजोर होती गई.

सीताराम केसरी (फाइल फोटो)

बता दें कि चारा घोटाला मामले में जगन्नाथ मिश्रा और लालू प्रसाद दोनों आरोपी थे. काफी दिनों तक चली सुनवाई के बाद जब जजमेंट आया तो वह चौंकाने वाला रहा. लालू प्रसाद दोषी करार दिए गए थे. तो वहीं जगन्नाथ मिश्रा को रिहा कर दिया गया. हालांकि इस मामले की जांच कर चुके पूर्व सीबीआई डायरेक्टर जोगिंदर सिंह की किताब में जगन्नाथ मिश्रा की भूमिका भी बताई गई है. राजद लगातार इस पर हंगामा भी कर रहा है कि यह सब बीजेपी का खेल है. तेजस्वी यादव लगातार मीडिया के सामने आकर बीजेपी पर आरोप लगा रहे हैं. लेकिन जगन्नाथ मिश्रा के इस बयान से अब नया मोड़ आने लगा है.