‘हर भौंकने वाले का जवाब देना जरूरी नहीं’ बीजेपी के आरजेडी तोड़ने वाले बयान पर जगदानंद सिंह ने दिया करारा जवाब

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क :  हर भौंकने वाले का जवाब मैं नहीं देता हूं. मेरी पार्टी को तोड़ने वाले का क्या हश्र हुआ यह सबने देखा. मेरे घर से 7 लोग को तोड़कर ले गए थे. जनता ने ऐसा सबक सिखाया कि उसको कभी वो लोग भूल नहीं सकते हैं. फिर से कोई मेरी पार्टी को तोड़ने की हिमाकत नहीं कर सकता है.

दरअसल ये बातें आरजेडी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने कही है. राबड़ी आवास पर आयोजित प्रदेश उपाध्यक्षों की बैठक बाद जब मीडिया ने उनसे भूपेन्द्र यादव के बयान पर प्रतिक्रिया जाननी चाही तो उन्होंने कहा कि आरजेडी चट्टान की तरह की एकजुट है. तोड़ने वालों का चुनाव में जनता ने क्या हश्र किया आज दिख रहा है.



जेडीयू ने आरजेडी के 7 विधायकों को तोड़ा जिसके परिणास्वरूप जनता ने उन्हें तीसरे नंबर की पार्टी बना दी. चुनाव पूर्व वो लोग तरह-तरह के दावे कर रहे थे. आरजेडी को निस्तानाबुद कर दिया जाएगा. पार्टी अब नहीं रहेगी, ना जाने ऐसे कई दावे किए जा रहे थे. लेकिन चुनाव बाद आरजेडी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी. आगे बिहार में आरजेडी की सरकार बनेगी.

बता दें कि बिहार बीजेपी प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने खरमास बाद आरजेडी में बड़ी टूट का दावा किया है. राजगीर में बीजेपी के प्रशिक्षण शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि खरमास बाद आरजेडी को टूटने से कोई रोक नहीं सकता. तेजस्वी अपनी पार्टी को टूटने से बचा सके तो बचा ले.

भूपेन्द्र यादव के इन दावों का जेडीयू सांसद ललन सिंह ने भी समर्थन किया है. ललन सिंह ने तो दो कदम आगे बढ़कर कहा कि अगर भूपेन्द्र यादव चाह लें तो पूरा का पूरा आरजेडी का बीजेपी में विलय हो जाएगा. उधर जेडीयू नेता केसी त्यागी ने भी भूपेन्द्र यादव के बयान का खुलकर समर्थन किया है.