जमुई कांवरिया बस हादसा : 45 घायल, गंभीर हालत में 8 पटना रेफर

जमुई(राजेश कुमार) : शनिवार की देर रात जमुई देवघर मुख्यमार्ग पर कांवरियों से भरी बस अनियंत्रित होकर सोनो थानाक्षेत्र के पैलवाजन के समीप पुल पर पलट गई. इस हादसे में एक महिला कांवरिया की मौके पर ही मौत हो गई जबकि बस में सवार 45 कांवरिया यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए. घायलों में सात बच्चे भी शामिल हैं. 

घायलों का इलाज जमुई के सदर अस्पताल में चल रहा है और उनकी स्थित खतरे से बाहर बताई जा रही है. वहीं आठ लोगों को पीएमसीएच पटना रेफर किया गया है. जिसमें वीडीसी सदस्य अच्छे लाल मांझी और विनोद यादव, संतोष यादव, विनोद यादव, सुगान्ती देवी, डोमा मांझी, शालू कुमारी, उपेंद्र बीन, हरेंद्र गुप्ता बताये जाते है.

जानकारी के मुताबिक गोपालगंज जिले के कटैया थानाक्षेत्र से कांवरियों को लेकर एक बस देवघर आयी थी. बस 92 यात्रियों से खचाखच भरी थी जिसमें कुछ यात्री बस के छत पर भी सवार थे. शनिवार को सभी तीर्थयात्री देवघर मंदिर में जलाभिषेक कर उसी बस से देर रात वापस गोपालगंज लौट रहे थे.

रास्ते में जमुई के सोनो थानाक्षेत्र अंतर्गत पैलवाजन स्थित तलवाना पुल पर उक्त बस अनियंत्रित होकर पलट गई. इस दुर्घटना में एक महिला कांवरिया जयरानी देवी की मौके पर ही मौत हो गयी जबकि 45 कांवरिया यात्री गंभीर रूप से घायल हो गए.

घटना की जानकारी मिलने पर सोनो थानाध्यक्ष अरविन्द कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और तत्काल घायलों को सोनो स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया.  जहां से उन्हें प्राथमिक उपचार के बाद जमुई रेफर किया गया. बस पर सवार सभी कांवरिया गोपालगंज जिले के कटया थानाक्षेत्र अंतर्गत अमवा गांव के निवासी बताए जा रहे हैं.

मृत महिला कांवरिया की पहचान अमवा निवासी रामदेव यादव की पत्नी जयरानी देवी के रूप में हुई है. सभी घायलों का इलाज जमुई के सदर अस्पताल में चल रहा है और उनकी स्थित स्थिर बताई जा रही है. घायल यात्रियों में सात बच्चे भी शामिल हैं. घटना के संबंध में पूछे जाने पर यात्रियों ने बताया कि बस का ड्राइवर नशे में धुत्त था.

जमुई के एसपी जयंतकांत ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि बस अनियंत्रित होकर नदी में गिरी, जिसमें एक की मौत हो गई है और दर्जनों घायल हैं. मृतकों की संख्या बढ़ सकती है.

यह भी पढ़ें-  नीतीश के चहेते प्रशांत किशोर को झटका, छिन गया राज्यमंत्री का दर्जा