‘न्याय के साथ तरक्की, नीतीश की जीत पक्की’ इस दावे के साथ जेडीयू ने जारी किया घोषणा पत्र

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : 2020 चुनाव के लिए जेडीयू ने घोषणापत्र जारी कर दिया गया है. निश्चय पत्र 2020 के नाम से पार्टी की ओर से घोषणा पत्र जारी किया गया है. जिस पर लिखा है ‘ न्याय के साथ तरक्की, नीतीश की जीत पक्की’. घोषणा पत्र पर सक्षम बिहार स्वावलंबी बिहार भी लिखा है.

घोषणा पत्र में सीएम नीतीश के 7 निश्चय पार्ट-2 को विस्तार से बताया गया है. पार्टी की ओर से प्रदेश की जनता के समक्ष यह बताने की कोशिश की गयी है कि 7 निश्चय पार्ट-2 में इन सारे कार्यों को किया जाएगा.



1.युवा शक्ति- बिहार की प्रगति: प्रदेश के युवाओं को सशक्त बनाने का काम किया जाएगा. बेहतर तकनीकी प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाएगी, ताकी रोजगार के बेहतर अवसर प्राप्त हो सकें. उद्यमिता को बढ़ावा दिया जाएगा, जिससे युवा स्वयं उद्यमी बन सकें और अन्य लोगों को भी रोजगार के अवसर उपलब्ध करा सकें.

प्रदेश के प्रत्येक आईटीआई एवं पॉलीटेक्निक संस्थानों में प्रशिक्षण की गुणवत्ता को बढ़ाया जाएगा. इन संस्थानों में पढ़ने वाले बच्चों को आधुनिक तकनीकि का प्रशिक्षण दिया जाएगा. प्रत्येक जिले में कम से कम एक मेगा स्किल सेंटर खोला जाएगा. जिसमें अनट्रेंड युवाओं को रोजगार पाने योग्य बनाया जाएगा.  युवाओं को अपना व्यवसाय के लिए सरकारी मदद की जाएगी. व्यवसाय के लिए अधिकतम 3 लाख रूपए का ऋण 50 प्रतिशत अनुदान दिया जाएगा.

2.सशक्त महिला- सक्षम महिला:  महिलाओं को सशक्त बनाने की काम करेगी सरकार. उद्योग लगाने के लिए 50 प्रतिशक के अनुदान पर 5 लाख रूपये तक की मदद की जाएगी. इंटर पास अविवाहित महिलाओं को 25,000 और स्नातक पास महिलाओं को 50,000 रुपए दिए जाएंगे ताकि वो आगे पढ़ाई कर सकें. पुलिस थाना, प्रखंडों, अनुमंडल एवं जिलास्तरीय कार्यालयों में आरक्षण के अनुरूप महिला की भागीदारी बढ़ाई जाएगी.

3.हर खेत तक सिंचाई का पानी:  सीएम नीतीश कुमार हर खेत तक पानी पहुंचाने का बात करते रहे हैं. जिसे 7 निश्चय पार्ट-2 में लिखित रूप से शामिल किया गया है. हर संभव माध्यम से हर खेत तक सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराया जाएगा.

4.स्वच्छ गांव- समृद्ध गांव: पार्टी की ओर से जारी घोषणा पत्र में कहा गया है कि सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाईट लगाया जाएगा. गांव में कचरा प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी. वार्ड स्तर पर नालों एवं गलियों की सफाई कराई जाएगी. हर घर से ठोस कचरा इकट्ठा किया जाएगा. आधुनिक तकनीकों का इस्तेमाल कर दुग्ध उत्पादन, मुर्गी पालन, मछली पालन आदि को बढ़ावा दिया जाएगा.

5. स्वच्छ शहर, विकसित शहर : इस निश्चय के तहत शहरों में ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन की व्यवस्था की जाएगी. वृद्धजनों के लिए सभी शहरों में आश्रय स्थल बनाया जाएगा, तथा इनके बेहतर प्रबंधन एवं संचालन की व्यवस्था की जाएगी. शहरी गरीबों के लिए बहुमंजिला भवन बनाया जाएगा. सभी शहरों एवं महत्वपूर्ण नदीं घाटों पर विद्युत शवदाह गृह सहित मोक्षधाम का निर्माण कराया जाएगा. साथ ही सभी शहरों में स्टॉर्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम को विकसित किया जाएगा. जिससे जलजमाव की कोई समस्या न हो.

6.सुलभ संपर्कता: इस निश्चय के माध्यम ग्रामीण सड़कों को मुख्य सड़क से जोड़ने का काम किया जाएगा. गांव की सड़कों को प्रखंड/थाना/अनुमंडल के अलावे बाजार, अस्पताल, राज्य हाईवे और नेशनल हाईवे तक संपर्कता के लिए नयी सड़कें बनायी जाएगी. शहरी क्षेत्रों में जाम की समस्या से मुक्ति एवं सुचारू यातायात के संचालन के लिए आवश्यकतानुसार बाईपास अथवा फ्लाईओवर का निर्माण कराया जाएगा.

7.सबके लिए अतिरिक्त स्वास्थ्य सुविधा: जेडीयू के घोषणा पत्र में इस बात का जिक्र किया गया है कि प्रत्येक 8-10 पंचायतों पर पशु अस्पताल की व्यवस्था की जाएगी. पशुओं के लिए चिकित्सा सुविधा, टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान, कृमिनाशक जैसी सेवाओं की डोर स्टेप डिलिवरी कराने की ठोस व्यवस्था की जाएगी. कॉल सेन्टर में फोन कर अथवा मोबाइल ऐप के माध्यम से इन सुविधाओं को प्राप्त कर सकेंगे. पशुओं की सभी प्रकार की चिकित्सा सुविधाएं निःशुल्क रहेंगी.