‘उदय नारायण चौधरी को नोटिस भेज कर कागज क्यों बर्बाद करें’

uday narayan chaudhary
uday narayan chaudhary

लाइव सिटीज डेस्क : जदयू नेता व पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी लगातार बगावती तेवर दिखा रहे हैं. अब इन पर जदयू के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद आरसीपी सिंह ने पलटवार किया है. उन्होंने कहा कि उदय नारायण चौधरी के बारे में सबको पता है कि वे किस नाव पर सवार हैं. उनको नोटिस देना स्‍टेशनरी और कागज की बर्बादी है. जो खुद पार्टी से बाहर जा रहा हो, उसे बाहर करने की क्‍या जरूरत है. उनकी बातों को हम तवज्‍जों नहीं देते हैं.

दरअसल, उदय नारायण चौधरी इन दिनों पार्टी लाइन से हटकर कई बयान दे रहे हैं. कभी सीएम नीतीश पर निशाना साधते हुए बयान देते हैं तो कभी शरद यादव और लालू प्रसाद से संबंधित. मंगलवार को उन्होंने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के खिलाफ बदले की भावना से कार्रवाई हो रही है. लालू परिवार को प्रताडि़त किया जा रहा है.



जदयू सांसद आरसीपी सिंह (फाइल फोटो)

उदय नारायण चौधरी ने कहा था कि सोने को जितना आग में तपाया जाएगा, वह उतना ही चमकेगा. लालू प्रसाद के खिलाफ प्रतिशोध में कार्रवाई हो रही है. लोकतंत्र में मतभेद हो, लेकिन मनभेद नहीं होना चाहिए. इससे पहले चौधरी ने शरद यादव पर कार्रवाई करने व आरक्षण को लेकर पार्टी को कटघरे में खड़ा कर चुके हैं. उदय नारायण चौधरी के बाद अब मांझी गरम, कहा- नीतीश ने मेरे खिलाफ कुचक्र रचा था

साथ ही आरसीपी सिंह ने कहा कि 27-28 जनवरी से प्रखंड स्‍तर पर जदयू कार्यकर्ताओं के लिए प्रशि‍क्षण शिविर लगाया जायेगा.यह शिविर 25 फरवरी को समाप्‍त होगा. शिविर में कार्यकर्ताओं को पार्टी की नीतियों के बारे में जानकारी दी जायेगी. वहीं दूसरी ओर खबर यह आ रही है कि गया में सैकड़ों जदयू कार्यकर्त्ता ने इस्तीफा दे दिया है. ये सभी उदय नारायण चौधरी के समर्थक बताये जा रहे हैं.