यशवंत सिन्हा पर जदयू का पलटवार : प्रेसिडेंट एक्शन को तानाशाही करार देना दुर्भाग्यपूर्ण

जदयू प्रवक्ता अजय आलोक (फाइल फोटो)

लाइव सिटीज डेस्क : आम आदमी पार्टी (आप) के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने के बाद मची सियासी हलचल के बाद पक्ष और विपक्ष में कई रिएक्शन आये. आम आदमी पार्टी इसे भाजपा की तानाशाही और साजिश बता रही है तो वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री यशवंत सिन्हा ने इसे तुगलकशाही करार दिया. इस पर अब जदयू से भी पलटवार हुआ है. जदयू प्रवक्ता अजय आलोक ने भी प्रतिक्रिया दी है.

पूर्व वित्त मंत्री और भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ट नेता यशवंत सिन्हा की ओर से राष्ट्रपति के फैसले को ‘तुगलकशाही’ करार देने पर जेडीयू ने निशाना साधा है. जेडीयू नेता और प्रवक्ता अजय आलोक ने कहा कि यशवंत सिन्हा जैसे बुजुर्ग व्यक्ति के द्वारा राष्ट्रपति की कार्रवाई को तानाशाह कहना दुभार्ग्यपूर्ण हैं.

यशवंत सिन्हा(फाइल फोटो)

दरअसल, आप विधायकों को अयोग्य घोषित किए जाने के बाद यशवंत सिन्हा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि राष्ट्रपति द्वारा आम आदमी पार्टी के 20 विधायकों को अयोग्य घोषित किया जाना प्राकृतिक न्याय के सिद्धांत के खिलाफ है. इस मामले में न कोई सुनवाई हुई न ही हाई कोर्ट के आदेश का इंतजार किया गया. यह एक प्रकार से तुगलकशाही है.

हाल ही में लाभ के पद पर होने के कारण आप के 20 विधायकों को चुनाव अायोग ने अयोग्‍य घोषित करने के लिए राष्ट्रपति के पास सिफाकिश की थी. आयोग की इस सिफारिश पर राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी मुहर लगा दी थी. इससे आप के 20 विधायकों की सदस्‍यता रद्द हो गई थी.  यशवंत सिन्हा का बड़ा हमला, कहा-तुगलकशाही है AAP विधायकों को अयोग्य घोषित करने का फ़रमान 

About Ranjeet Jha 2504 Articles
I am Ranjeet Jha (पत्रकार)

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*