प्रोटेम स्पीकर बनाए गए जीतन राम मांझी, विधानसभा के नये सदस्यों को दिलाएंगे शपथ

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : शपथ के दूसरे दिन से नीतीश कुमार के नेतृत्व में नयी सरकार काम में जुट गयी. आज बिहार सचिवालय में कैबिनेट की पहली बैठक हुई. जिसमें सीएम नीतीश कुमार, दोनों डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी सहित सभी मंत्रियों ने शिरकत किया. पहली बैठक में दो एजेंडों पर मुहर लगी. साथ ही जीतनराम मांझी को प्रोटेम स्पीकर बनाने पर सहमति बनी.

कैबिनेट की बैठक में विधानमंडल का शीतकालीन सत्र बुलाने के प्रस्ताव को मंजूरी दी गयी. 23-27 नवंबर तक विधानमंडल सत्र आहूत किया गया. इस दौरान प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी विधानसभा के नये सदस्यों को शपथ दिलाएंगे.इसके बाद नवनियुक्त सदस्य विधानसभा अध्यक्ष का चयन करेंगे.



बताया जा रहा है कि बीजेपी के नंद किशोर यादव को स्‍पीकर बनना तय हो गया है. इनके नाम पर एनडीए में सहमति बन गयी है. बीजेपी को अधिक सीटें मिलने के कारण स्पीकर का पद इनके खाते में जाना तय माना जा रहा है.  

नंदकिशोर यादव पटना साहिब सीट  से लगातार सातवीं बार विधायक बने हैं. वे 2005 से ही नीतीश सरकार में मंत्री रहे हैं. लेकिन इस बार उन्हें मंत्री नहीं बनाया गया. जिसको लेकर कई तरह के कयास लगाए जाने लगे थे. पिछली सरकार में पथ निर्माण मंत्री थे.

उधर नये मंत्रिमंडल के मंत्रियों के बीच विभाग का बंटवारा हो गया. तार किशोर प्रसाद को वित्त के अलावे वाणिज्य और वन पर्यावरण विभाग भी दिया गया है. रेणु कुमारी को पिछड़ा कल्याण विभाग, उद्योग और पंचायती राज विभाग का जिम्मा दिया गया हैग्रामीण विकास एवं ग्रामीण कार्य विभाग — विजय चौधरी को दिया गया है. विजेन्द्र प्रसाद यादव को उर्जा, मद्ध निषेध और निबंधन विभाग दिया गया है. रामसूरत राय को राजस्व विभाग, जीवेश मिश्रा को पर्यटन और श्रम विभाग दिया गया है. रामप्रीत पासवान को पीएचईड़ी विभाग, मुकेश सहनी को पशुपालन विभाग दिया गया है.

वहीं, भवन निर्माण, अल्पसंख्यक कल्याण, समाज कल्याण विज्ञान प्रौधौगिकी — अशोक चौधरी के जिम्मे है, मेवा लाल चौधरी को शिक्षा विभाग दिया गया है, मंगल पांडेय को एक बार फिर स्वास्थ्य और पथ निर्माण विभाग का मंत्री बनाया गया है. संतोष कुमार सुमन को लघु सिंचाई मंत्री बनाया गया है. शीला कुमारी को परिवहन मंत्री बनाया गया है.