बिहार की सियासत में ‘जिन्ना विवाद’ ने पकड़ा तूल, कांग्रेस महासचिव रणदीप सुरजेवाला ने बीजेपी पर किया पलटवार

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : कांग्रेस की उम्मीदवारी पर ‘जिन्ना विवाद’ तूल पकड़ता जा रहा है. इसे लेकर बिहार की सियासत गरम हो गई है. पटना पहुंचे कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बीजेपी पर तीखा हमला किया है. उन्होंने कहा कि जिन्ना की मजार पर मत्था टेके बीजेपी अध्यक्ष और सवाल हमसे पूछे जा रहे हैं.

दरअसल, यह पूरा मामला बिहार के जाले विधानसभा क्षेत्र से जुड़ा हुआ है. जाले सीट से कांग्रेस ने मस्कुर उस्मानी को अपना प्रत्याशी बनाया है. उस्मानी पर जिन्ना समर्थक होने का आरोप बीजेपी ने शुक्रवार को लगाया था. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने यहां तक कह दिया कि उस्मानी ने अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र संघ में रहते हुए जिन्ना की तस्वीर लगाई थी. वहां से तस्वीर हटाए जाने को लेकर काफी हंगामा हुआ था. केस तक हुआ. बाद में पुलिस की रेड पड़ी तो यूनिवर्सिटी के कार्यालय से जिन्ना की तस्वीर मिली थी.



कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव सुरजेवाला ने कहा कि जिन्नावादी का आरोप बेबुनियाद है. कहा कि एएमयू का अध्यक्ष रहते हुए प्रधानमंत्री को पत्र लिखा गया था कि एएमयू, संसद और मुंबई हाईकोर्ट से जिन्ना की मूर्ति हटाई जाए, लेकिन उसका आज तक जवाब नहीं मिला.

उन्होंने आरोप पर पलटवार करते हुए कहा कि जिन्ना की मजार पर बीजेपी अध्यक्ष जाते है माथा टेकन और सवाल कांग्रेस से पूछे जाते हैं. वहीं, शक्ति सिंह गोहिल ने लालकृष्ण आडवाणी का नाम लिये बिना कहा कि बीजेपी के बड़े नेता ही जिन्ना के समर्थक हैं. वे जिन्ना की मजार पर गए थे. वहां से लौटकर उन्होंने जिन्ना की तारीफ भी की थी.

गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कल कहा था कि जिस तरह जिन्ना के समर्थक को कांग्रेस ने प्रत्याशी बनाया है, क्या वह जिन्ना के नाम पर वोट मांगेगी? कांग्रेस व तेजस्वी यादव बताएं कि उनके स्टार प्रचारक कहीं जिन्ना तो नहीं होंगे?

कट सकता है उस्मानी का टिकट!

जाले के कांग्रेस प्रत्याशी मशकूर उस्मानी को लेकर उठे विवाद के बाद उसका टिकट कटने की बात कही जा रही है. सूत्रों की मानें तो उस्मानी की जगह पार्टी किसी दूसरे कैंडिडेट को वहां से प्रत्याशी बना सकती है. सूत्रों की मानें तो सोनिया गांधी व राहुल गांधी से प्रदेश के नेता इस बावत मशविरा कर रहे हैं. उस्मानी का टिकट बदलेगा या नहीं, इस सवाल पर कांग्रेस के तमाम बड़े नेताओं ने चुप्पी साध ली है. राज्यसभा सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि इस मामले को पार्टी के बड़े नेता देख रहे हैं.