उद्यान निदेशालय और डाक विभाग की संयुक्त पहल, अब डाकिया करेंगे शाही लीची की होम डिलीवरी

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: मुजफ्फरपुर की शाही लीची को अब डाकिया घर-घर तक पहुंचायेंगे. उद्यान निदेशालय और डाक विभाग की संयुक्त पहल से लोगों के घर-घर तक शाही लीची की खेप पहुंचाने की तैयारी है. कोरोना बंदी में देश के बड़े शहरों के बाजारों में जाने वाली लीची की क्षतिपूर्ति इस नई योजना से करने की तैयारी है और 25 मई से योजना की शुरुआत होगी.

इसके लिए http://horticulture.bihar.gov.in पर मात्रा के हिसाब से आर्डर करना होगा. उसके बाद बाजार दर पर फ्रेश शाही लीची आपके घर तक पहुंच जाएगी. शाही लीची को सीधे घर तक पहुंचाने की पहली बार कवायद हो रही है. कोरोना बंदी को देखते हुए मुजफ्फरपुर के शाही लीची को इस बार बड़ा बाजार नहीं मिल रहा है. हरेक साल शाही लीची की खेप देश के सभी महानगरों में भेजा जाता था लेकिन इस बार कोरोना बंदी की मार लीची किसानों और व्यापारियों पर पड़ने वाली है.

1 से लेकर 10 किलो तक का मिलेगा पैकेट

उद्यान विभाग ने किसानों और व्यापारियों के होने वाले नुकसान के लिए नई योजना तैयार की है. योजना के मुताबिक बिहार के चार शहर पटना, गया, भागलपुर और मुजफ्फरपुर में घर-घर मांग के अनुसार डाक विभाग लीची का पैकेट उपलब्ध करायेगा. इसके लिए 1, 2, 5 और 10 किलो के लीची का पैकेट तैयार कर डाक विभाग को उपलब्ध कराया जाना है. उद्यान विभाग के मुताबिक बाजार दर पर भी लोगों को मांग के अनुसार फ्रेश लीची उपलब्ध कराया जायेगा. उद्यान विभाग इस साल 30 से 35 फीसदी बाजार के संभावित नुकसान को नये बाजार से पाटना चाह रहा है ।

50 किसानों के समूह करेंगे लीची की आपूर्ति

उद्यान विभाग की नई पहल के लिए शाही लीची की सौ हैक्टेयर की बाग का चयन हुआ है. 50 किसानों के इस लीची बाग को मुरौल फार्मर्स प्रोड्यूसर कम्पनी उपलब्ध करायेगा. शाही लीची को इस किसान समूह द्वारा पिछले कुछ सालों से दिल्ली, कोलकता,बंगलौर और मुंबई जैसे महानगरों में पहले भी भेजा जाता था लेकिन पहले इन किसानों के पास कार्गो विमान की सुविधा पटना में उपलब्ध होती थी लेकिन कोरोना बंदी के कारण इस साल विमान की सुविधा नहीं मिलने से इन किसानों ने नई राह पकड़ी है. महज 10 रूपये प्रति किलो की दर से मुनाफा कमाने का किसानों के इस कम्पनी ने लक्ष्य रखा है जबकि किसानों को अपने उत्पाद को बर्बाद होने की बजाय एक नया उपभोक्ता बाजार सीधे घर में मिल सकेगा.