अभी-अभी, मंत्री मदन सहनी कोरोना संक्रमित, बॉडीगार्ड भी पॉजिटिव, डॉक्टरों ने होम आइसोलेशन में रहने की दी सलाह

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क: बिहार में कोरोना ने विकराल रूप धारण कर लिया है. संक्रमण की रफ्तार काफी तेज हो गयी है. इसकी चपेट में हर रोज हजारों की संख्या में लोग आने लगे हैं. अभी-अभी, बिहार सरकार के मंत्री मदन सहनी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है. मंत्री सहनी का एक सुरक्षाकर्मी भी कोरोना संक्रमित पाया गया. डॉक्टरों ने मंत्री को होम आइसोलेशन में रहने की सलाह दी है.

पीएमसीएच प्राचार्य के कोरोना पॉजीटिव होने की सूचना के बीच सीआईडी के इंस्पेक्टर राकेश कुमार की कोरोना से मौत हो गई है. वे 2009 बैच के अधिकारी थे. उधर, गृह विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद भी कोरोना पॉजीटिव हो गए हैं. ये 1990 बैच के आईएएस अधिकारी हैं. उन्हें पटना के एम्स में भर्ती कराया गया है. वित्त विभाग के प्रधान सचिव एस सिद्धार्थ की जांच रिपोर्ट भी कोरोना पॉजीटिव आई है.

राज्य में कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से बढ़ रही है. हर दिन नया रिकॉर्ड बन रहा है. पिछले 24 घंटे में हुई 93523 लोगों की जांच में 4157 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है. कोरोना संक्रमित पूर्व मध्य रेल, मुख्यालय, हाजीपुर के वरिष्ठ लेखा परीक्षक राजेश सिन्हा की हालत गंभीर बनी हुई है. पूर्व मध्य रेल, समस्तीपुर के वरिष्ठ मण्डल लेखा परीक्षा दीपक कुमार की भी हालत नाजुक है. वे समस्तीपुर रेल मंडल अस्पताल में भर्ती हैं. पीएमसीएच के प्रिंसिपल विद्यापति चौधरी भी कोरोना पॉजिटिव हो गए हैं. इससे पीएमसीएच के भीतर स्वास्थ्यकर्मियों में हड़कंप मचा हुआ है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत समेत कई अधिकारी सोमवार को उनके संपर्क में आए थे. कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या दिनों दिन भयावह होती जा रही है. पटना जिले में सारे सरकारी अस्पतालों के बेड फुल हो गए हैं. जिले के अंदर अस्पतालों में 1092 बेड हैं, जिसमें 832 फुल हैं. इनमें सरकारी अस्पतालों के 359 में से सभी बेड भर गए हैं. निजी अस्पतालों में 733 बेड हैं, जिनमें 473 फुल हैं और अब मात्र 260 खाली हैं. पटना स्थित एम्स, पीएमसीएच और एनएमसीएच में बेड की संख्या बढ़ाई जा रही है. इसके अतिरिक्त 10 आइसोलेशन सेंटर हैं, जिनकी क्षमता 775 है. इनमें अभी 55 लोग रह रहे हैं. बिहार में मंगलवार को 93523 लोगों की हुई जांच तो 4157 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई.