हेल्थ एंबेस्डर बनेगी ज्योति ! केन्द्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने किया ऐलान

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार की बेटी ज्योती की जिजिविषा ने वो कर दिखाया , जिसके आगे बड़े-बड़ों के कारनामें बौने साबित हो गए है. ज्योति के हौसले को देखते हुए उसे हेल्थ एंबेस्डर बनाने की चर्चा हो रही है. केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अश्विनी चौबे ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि ज्योति को भविष्य संवारने में सरकार सहयोग करेगी और उसे हरसंभव मदद पहुंचाया जाएगा.

इन दिनों ज्योति नाम की डंका ना सिर्फ देश में बल्कि विदेश में बजने लगा है. अपने दिव्यांग पिता को दिल्ली से दरभंगा 1200 किलोमीटर की दूरी ज्योति ने साइकिल से तय कर मिशाल पेश कर दी है . ज्योति के इस हौसले की मुरीद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की बेटी इवांका भी हो गयी है. वजापते उन्होंने ट्वीट कर ज्योति को बधाई दी है और उसके हौंसले को सलाम किया है.

बिहार के दरभंगा जिले के सिंहवाड़ा प्रखंड के सिरहूल्ली गांव की रहने वाली ज्योती अपने बीमार पिता को साइकिल पर बैठाकर 10 मई को दिल्ली से चलीं और लगातार 7 दिन की यात्रा कर 16 मई को दरभंगा पहुंच गयी. ज्योति की जिजिविषा को आज बिहार समेत पूरा देश सलाम कर रहा हैं. लोगों को धन्यवाद करते हुए ज्योति ने इवांका ट्रंप को भी धन्यवाद दिया है.

ज्योति की माने तो दिल्ली जैसे शहर में लॉकडाउन के कारण जब उसे अपनी और अपने पिता की जिंदगी बचाना मुश्किल लगा तो वो 500 रूपए में एक पुराना साइकिल खरीद ली. और फिर दिल्ली से दरभंगा के लिए निकल पड़ी. उसे यह कभी महसूस नहीं हुआ कि दिल्ली से दरभंगा कितनी दूर हैं. वो हार नहीं मानी और लगातार 7 दिनों तक साइकिल चलाते हुए अपने गांव पहुंच गयी.

परिवार के माली हालत के कारण बीच में पढ़ाई छोड़ चुकी ज्योति अब पढ़ना चाहती है. पढ़ लिखकर प्रदेश में ही अपने समाज के लिए कुछ करना चाहती हैं. बता दे कि ज्योति को साइकिलिंग फेडरेशन की ओर से ट्रायल के लिए बुलाया गया है. इसके लिए वो एक महीने बाद ट्रायल देने दिल्ली जाएगी. लेकिन फिलहाल वो होम क्वॉरेंटाइन में है.