लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्कः देश के बड़े डॉक्टर केके सिन्हा अब हमारे बीच नहीं हैं. रांची में उनका आज निधन हो गया. वरिष्ठ न्यूरो फिजिशियन डॉ केके सिन्हा कुछ दिनों से बीमार चल रहे थे और कल ही उन्हें मेडिका अस्पताल से घर वापस भेजा गया था. गौरतलब है कि पिछले दिनों बाथरूम में गिर जाने के बाद उनके कमर में चोट लग गयी थी. कल उनका पेट अचानक फूल गया था, जिसके बाद उन्हें इलाज के लिए मेडिका अस्पताल लाया गया था. उन्हें अस्पताल में एनिमा दिया गया था और उनके कमर की भी जांच की गयी थी.

डॉ केके सिन्हा रांची के ही नहीं बल्कि देश के जाने-माने न्यूरो फिजिशियन थे. उनके जाने से रांची के चिकित्सा जगत में शोक की लहर दौड़ गयी है. डॉ केके सिन्हा बिहार के पटना जिले के मनेर के रहने वाले थे, यहीं उनका जन्म हुआ था. इनके पिता शिक्षक थे.

केके सिन्हा बीएचयू से अपने कॉलेज की शिक्षा पूरी की थी. बीएचयू से आईएससी की पढ़ाई करने के बाद दरभंगा मेडिकल कॉलेज से एमबीसीएस की पढ़ाई की. इन्होंने 1953 में एमबीबीएस की परीक्षा पास की और मेडिसिन में ऑनर्स के साथ गाेल्ड मेडल प्राप्त किया.

केके सिन्हा ने रांची के म‍ेडिका अस्‍पताल में आखिरी सांस ली. न्‍यूरो सर्जरी के मास्‍टर कहे जाने वाले केके सिन्‍हा को कई जटिल बीमारियों के इलाज व सफल ऑपरेशन के लिए जाना जाता है. डॉक्टर सिन्हा के निधन की खबर से सारा झारखंड शोक मेें डूब गया है. उनके घर पर शहर के कई गणमान्य व्यक्ति पहुंच चुके हैं.

परिजनों ने बताया कि शनिवार को डॉ केके सिन्‍हा का अंतिम संस्कार होगा. झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास, पूर्व मुख्यमंत्री अर्जुन मुंडा ने डाॅ केके सिन्हा के निधन पर शोक जताया है. प्रसिद्ध न्यूरोलॉजिस्ट डॉ केके सिन्हा के निधन के बाद उनके बारियातू स्थित आवास में उनके अंतिम दर्शन को शहर के गणमान्य लोग व प्रसिद्ध डॉक्टर पहुंच रहे हैं.