कुतुबमीनार से कूद जायेंगे, पर भाजपा में नहीं जायेंगे…

babulal marandi

लाइव सिटीज डेस्क : दिल्ली जाकर कुतुबमीनार से कूद जायेंगे, लेकिन भाजपा में नहीं जायेंगे. यह कहना है झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी का.

मरांडी ने कहा कि भाजपा अफवाह फैलाने में माहिर है और उनको लेकर अनर्गल बयानबाजी इसी का एक पार्ट है. बाबूलाल मरांडी ने यह भड़ास झारखंड भाजपा के बयान पर निकाला.

 

 

दरअसल झारखंड भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण गिलुआ ने कहा था कि वे झारखंड विकास मोर्चा के सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी के टच में हैं. उन्हें भाजपा में घर वापसी के लिए पहल की जा रही है. पार्टी के वरीय नेता भी उनके संपर्क में हैं. उनकी ओर से भी अच्छे संकेत मिले हैं.

गिलुआ ने यहां तक कह दिया था कि विधानसभा चुनाव 2019 के आते-आते कुछ बेहतर हो, यह प्रयास किया जा रहा है. इसी पर बाबूलाल मरांडी अपनी भड़ास निकाल रहे थे.

 

babulal marandi

 

झाविमो सुप्रीमो बाबूलाल मरांडी ने लक्ष्मण गिलुआ के प्रस्ताव को नकारते हुए साफ कहा कि भाजपा जो सपना देख रही है, वह पूरा होनेवाला नहीं है. मरांडी ने कहा कि भाजपा में शामिल होने से बेहतर है कि वे कुतुबमीनार से कूदना पसंद करेंगे.

भाजपा दरअसल अपने अनर्गल बयान से भ्रम फैलाना चाहती है. जब भी चुनाव नजदीक आता है, तब भाजपा की इस तरह की हरकत बढ़ जाती है.

इसे भी पढ़ें : थानेदार पर ‘लाल’ हुए लालू, एसपी से की बात

मालूम हो कि लक्ष्मण गिलुआ ने कल गिरिडीह स्थित मधुबन में प्रेस को संबोधित करने के दौरान मरांडी को लेकर बयान दिया था और उनके भाजपा में आने की बात कही थी. गौरतलब है कि बाबूलाल मरांडी झारखंड के पहले मुख्यमंत्री रहे हैं. उस समय वे भाजपा में थे.

वहीं राजनीतिक गलियारों में हो रही चर्चा पर विश्वास करें तो भाजपा अपनी मजबूती के लिए ठोस रणनीति बना रही है और इसी का एक पार्ट है मरांडी को भाजपा में शामिल कराना.

यह जगजाहिर है कि बाबूलाल मरांडी भाजपा के पुराने नेता रहे हैं और झारखंड में आदिवासियों पर उनकी अच्छी पकड़ है.