‘भात-भात’ पर बोले लालू- अब आधार नहीं होने से मर रही हैं बेटियां

lalu-prasad-yadav
फाइल फोटो

लाइव सिटीज डेस्क : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने झारखंड में घटी ह्रदय विदारक घटना पर दुख प्रकट किया है. साथ ही देश की वर्तमान स्थिति पर जोरदार हमला भी किया है. बता दें कि 11 साल की एक लड़की भूख से तड़पते हुए मर जाती है कारण यह होता है कि आधार कार्ड नहीं होने की वजह से उसे राशन नहीं मिला. अब इस पर लालू प्रसाद ने भीषण पीड़ा व्यक्त की है.

लालू प्रसाद ने कहा कि न्यू इंडिया में अब आधार नहीं होने से बेटियाँ मर रही है. भगवान माफ़ नहीं करेगा. उसके घर देर है अंधेर नहीं.  लालू यादव गरीब की इस मासूम बच्ची की मौत से बेहद आहत हुए हैं. उन्होंने कहा कि अब इस नए राज में ऐसा दिन देखना पड़ रहा है कि आधार कार्ड नहीं होने से हमारी बेटियां मर रहीं हैं. उन्होंने इश्वर से दुआ की है कि इस मासूम के गुनेहगार को भगवान माफ़ नहीं करेगा.

बता दें कि 11 साल की लड़की सिर्फ इसलिए भूख से तड़प-तड़प कर मर गई, क्योंकि उसका परिवार राशन कार्ड को आधार से लिंक नहीं करा पाया. संतोषी कुमारी नाम की इस लड़की ने 8 दिन से खाना नहीं खाया था, जिसके चलते बीते 28 सितंबर को भूख से उसकी मौत हो गई. वो लड़की भात-भात बोलते दम तोड़ दी. 

इस घटना पर सीएम रघुवर दास ने भी पीड़ा व्यक्त की है. उन्होंने तत्काल पीड़ित परिवार को 50 हजार की सहायता देने का निर्देश दिया. सिमडेगा के डीसी ने बताया कि तीन सदस्यीय जांच कमिटी ने मौत की जांच की है, जिसमें यह बात सामने आई है कि बच्ची की मौत मलेरिया से हुई है. मुख्यमंत्री ने डीसी को 24 घंटे में स्वयं जांच करने का निर्देश दिया है.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक मृत बच्ची संतोषी के पिता बेरोजगार हैं. मां और बड़ी बहन दातुन बेच कर हफ्ते भर के 80 रुपये की कमाई करती है. इसके अलावा गांव के लोग जानवरों को चराने के बदले उन्हे चावल दे दिया करते थे. झारखंड जो कि देश के सबसे गरीब राज्यों में से एक है वहां गरीब परिवारों को प्रत्येक राशन कार्ड के बदले 35 किलोग्राम चावल देने का प्रावधान है.

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*