मायावती से लालू ने कर ली बात, भेज सकते हैं राज्यसभा

पटना : इनकम टैक्स की बड़ी कार्रवाई का टशन झेलते हुए भी राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद भाजपा के खिलाफ संपूर्ण विपक्ष के ‘महाजुटान अभियान’ पर आगे बढ़ने में लगे हैं . मंगलवार को इनकम टैक्स रेड की ख़बरों के बीच ही पश्चिम बंगाल की मुख्य मंत्री ममता बनर्जी ने 27 अगस्त को पटना के गांधी मैदान की महारैली में आने का लालू प्रसाद का न्योता कबूल कर लिया था . अब खबर यह आ रही है कि लालू प्रसाद ने बसपा सुप्रीमो मायावती से भी बातें कर ली हैं . लालू जानते हैं कि उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा को साथ लाये बगैर देश में विपक्ष का महाजुटान संभव नहीं है .

मायावती से लालू प्रसाद की हुई बातों की पुष्टि दिलीप मंडल कर रहे हैं . दिलीप मंडल इंडिया टुडे के एडिटर रह चुके हैं . उन्हें मायावती के करीब माना जाता है . इधर के दिनों में मंडल देश में सोशल मीडिया के एक्सपर्ट बनकर उभरे हैं . अभी इसी महीने वे राजद के प्रशिक्षण शिविर में लालू प्रसाद के बुलावे पर सोशल मीडिया का मंत्र समझाने राजगीर आये थे . कुछ माह पहले वे राजगीर पप्पू यादव की पार्टी जन अधिकार पार्टी (लो) के प्रशिक्षण शिविर में भी आये थे . 



दिलीप मंडल यह भी कह रहे हैं कि लालू प्रसाद मायावती को बिहार से राज्य सभा में भेजने को तैयार हो सकते हैं . बता दें कि उत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव के बाद बसपा की ऐसी स्थिति नहीं है कि वह वर्तमान कार्यकाल ख़त्म होने पर मायावती को अपने दम राज्य सभा भेज सके . मंडल कह रहे हैं कि लालू प्रसाद की कोशिश देश भर में गैर भाजपा शक्तियों को जोड़ना है . अपने फेसबुक पोस्ट में मंडल यह भी कह रहे हैं कि गुजरात में कांग्रेस के समर्थन में सभी पार्टियां प्रचार के लिए जायेगी . इसके लिए लालू प्रसाद कांग्रेस के वाइस प्रेजिडेंट राहुल गांधी के संपर्क में हैं .

मंडल कहते हैं कि यह सबों ने मानना शुरु कर दिया है कि उत्तर भारत में बीजेपी को रोकने का एकमात्र मॉडल लालू प्रसाद के पास है . वे लिखते हैं कि लालू ही हैं,जिनके नाम से आरएसएस को बुखार चढ़ जाता है . हाफ पैंट गीली हो जाती है . वे यह भी लिखते हैं कि बिहार में गठबंधन अटूट बना हुआ है . फिर सवालिया लहजे में मंडल बोलते हैं कि क्या इतनी वजह काफी नहीं है,जिसके लिए लालू प्रसाद के खिलाफ छापे डाले जाएं ? 

बिहार विधान सभा चुनाव के दौरान हेलीकॉप्टरों के हुए प्रयोग पर भी दिलीप मंडल ने चर्चा की है . उन्होंने कहा है कि भाजपा ने अपने लिए 16 हेलीकाप्टर किराये पर लिए थे . इसके अलावा तीन सहयोगी दलों के लिए 6 हेलीकाप्टर अलग से . लालू प्रसाद के पास सिर्फ 2 हेलीकाप्टर थे . वे कहते हैं कि अब कोई यह भी कह देगा कि बीजेपी के हेलीकाप्टर तो पानी से उड़ते थे और लालू प्रसाद के हेलीकाप्टर पेट्रोल से . उन्होंने यह भी लिखा कि देश के सर्वाधिक करप्ट नेता ब्राह्मण हैं,लेकिन आज किसी ब्राह्मण नेता के खिलाफ जांच नहीं चल रही है .

यह भी पढ़ें- लालू प्रसाद को मिला ममता बनर्जी का साथ, बोलीं- मैं आ रही हूं पटना
वह सब कुछ, जो आप जानना चाहते हैं लालू प्रसाद से जुड़े IT रेड के बारे में