सीएम नीतीश की ना के बाद अब लालू भी विपक्षी दलों की बैठक में नहीं होंगे शामिल !

lalu-yadav, IRCTC घोटाला, लालूप्रसाद , राबड़ी, तेजस्वी यादव, बिहार, रेलवे टेंडर घोटाला, रांची, जेल, पटियाला हाउस कोर्ट

लाइव सिटीज डेस्क : बिहार में महागठबंधन सरकार में बड़ी उथल-पुथल मची है. राजद और जदयू के बीच सबकुछ ठीक होने का दावा भले ही किया जा रहा हो लेकिन भाजपा द्वारा बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के इस्तीफे की मांग से सियासत में हलचल मच गई है. राजद सुप्रीमो ने अहम बैठक भी बुलाई और साफ कह दिया कि तेजस्वी यादव इस्तीफा नहीं देंगे. लेकिन सीएम नीतीश का स्टैंड इस पर क्लियर नहीं हुआ है. वहीं दूसरा मुद्दा उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर है जिसके लिए एक बार फिर विपक्षी दलों की बैठक 11 जुलाई मंगलवार को होनी है. लेकिन सीएम नीतीश इसमें भाग नहीं लेने जा रहे हैं. तो वहीं राजद सुप्रीमो भी विपक्षी दलों की बैठक में शामिल नहीं हो पायेंगे. 

दरअसल, बिहार में अभी सियासत गरमाई हुई है. बिहार के मुख्यमंत्री राष्ट्रपति चुनाव के बाद उपराष्ट्रपति चुनाव में भी विपक्षी दलों की एकता को झटका देते हुए मंगलवार को होने वाली बैठक में शामिल नही होने जा रहे हैं तो वहीं लालू प्रसाद भी मजबूरीवश इस बैठक में शामिल नहीं हो पायेंगे. लालू प्रसाद को मंगलवार को चारा घोटाला मामले में सीबीआई की विशेष कोर्ट में पेश होने वाले हैं. जिसके लिए वे रांची रवाना हो चुके हैं. उनकी जगह पार्टी के सांसद जयप्रकाश यादव दिल्ली जाएंगे. lalu-yadav

नीतीश कुमार का उपराष्ट्रपति चुनाव को लेकर होने वाली विपक्षी दलों की बैठक में शामिल होना मुश्किल हो रहा है क्योंकि पटना में जदयू की मंगलवार को बैठक है जिसमें पार्टी के तमाम नेता हिस्सा ले रहे हैं.

हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक जदयू के वरिष्ठ नेता शरद यादव मंगलवार को उपराष्ट्रपति पद के लिए होने वाली विपक्ष की बैठक में हिस्सा ले सकते हैं.  मंगलवार को पटना में जदयू की बैठक है लेकिन उसमें जाने का उनका अबतक कोई कार्यक्रम नहीं है.

यह भी पढ़ें- उपराष्ट्रपति चुनाव में नीतीश ले सकते हैं अलग स्टैंड, विपक्ष की बैठक से फिर किया किनारा !