लालू बोले : महागठबंधन में विवाद नहीं, नीतीश से लड़ाना चाहती है भाजपा

lalu-12356.jpg

पटना : राजद विधायक भाई वीरेंद्र और जदयू के प्रदेश महासचिव आरसीपी सिंह के बयानों को लेकर मचा राजनीतिक घमासान अब थमता नजर आ रहा है. इसे लेकर खुद राजद सुप्रीमो की ओर से पहल की गयी है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने आरसीपी सिंह के बयान को सही ठहराया है. उन्होंने यह भी कहा कि महागठबंधन अटूट है तथा यह भविष्य में और अधिक मजबूत होगा. लालू प्रसाद ने कहा कि बीजेपी नीतीश कुमार से लड़ाना चाहती है, लेकिन हमलोग लड़नेवाले नहीं हैं.

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद ने बुधवार को ये बातें एक मीडिया चैनल से खास मुलाकात में कहीं. लालू प्रसाद ने आरसीपी सिंह के उस बयान को भी सही ठहराया, जिसमें उन्होंने बेनामी संपत्ति पर जांच की बात कही थी. राजद सुप्रीमो ने कहा कि भाई वीरेंद्र ने गलतफहमी में बयान दिया था. इसी से अन्य लोगों में गलतफहमी हो गयी थी. अब सब ठीक है और महागठबंधन में किसी तरह का कोई विवाद नहीं है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भाजपा लड़ाना चाहती है, लेकिन इसमें वह सफल होनेवाली नहीं है.

इसे भी पढ़ें : संजय सिंह को भाई वीरेंद्र की चेतावनी! ज्यादा न बोलिये नहीं तो…

गौरतलब है कि पिछले तीन-चार दिनों से राजद विधायक भाई वीरेंद्र और जदयू के आरसीपी सिंह के बयान पर महागठबंधन की सियासत में हलचल मचा हुआ था. बता दें कि लालू फैमिली पर भाजपा के वरीय नेता सुशील मोदी के आरोप के बाद रविवार को जदयू के प्रदेश महासचिव आरसीपी सिंह ने बेनामी संपत्ति पर बयान दिया था. इसी पर राजद की ओर से भाई वीरेंद्र ने पलटवार किया. फिर भाई वीरेंद्र पर निशाना साधते हुए जदयू के प्रदेश प्रवक्ता संजय ने मोर्चा संभाल लिया. अब बुधवार को राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बयान के बाद यह विवाद के थमने की उम्मीद है.

मीडिया से खास बातचीत में लालू प्रसाद ने यह भी कहा कि देश भर में जल्द ही महागठबंधन बनेगा. पीएम और यूपी के सीएम पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि मोदी और योगी का पत्ता साफ कर देंगे. उन्होंने किशनगंज में भाजपा प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक पर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि किशनगंज में चिरकुट भाजपाइयों का जमावड़ा लगा है.