श्याम रजक को लालू यादव ने दी महत्ती जिम्मेवारी, आरजेडी के प्रदेश उपाध्यक्ष बनाए गए

लाइव सिटीज,सेंट्रल डेस्क : हाल ही में जेडीयू छोड़ आरजेडी में गए श्याम रजक को पार्टी का प्रदेश उपाध्यक्ष बना दिया गया. इनके साथ-साथ भूदेव चौधरी और प्रेम कुमार मणि को भी प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है. लालू की अनुमति मिलने के बाद पार्टी की ओर से पत्र जारी कर दिया गया. जिसकी जानकारी प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने दी.

पार्टी के पुनर्गठित समिति में श्याम रजक, भूदेव चौधर और प्रेम कुमार मणि को प्रदेश उपाध्यक्ष बनाया गया है. साथ ही यह भी कहा गया है कि ये तीनों पदाधिकारी पार्टी को मजबूत करने में अपना पूरा सहयोग करेंगे. साथ ही पार्टी के संघर्षात्मक और रचनात्मक कार्यो में अपना पूरा योगदान देंगे.



बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव से पूर्व ही श्याम रजक ने जेडीयू से अपना नाता तोड़ लिया था. जेडीयू से नाता तोड़ने के बाद वो आरजेडी में शामिल हो गए थे. तेजस्वी ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलायी थी. आरजेडी में आने के बाद कयास यह लगाया जाने लगा था कि फुलवारी से वो महागठबंधन के उम्मीदवार होंगे. लेकिन ऐसा हो ना सका. फुलवारी सीट महागठबंधन के घटक वाम दल के खाते में चली गयी जिस कारण श्याम रजक को निराशा हाथ लगी.

फुलवारी से टिकट नहीं मिलने पर श्याम रजक ने कहा भी था कि किसी बड़े काम को अंजाम देने के लिए इस प्रकार का त्याग करना होगा. उन्होंने कहा था कि नीतीश कुमार सिर्फ अफसरों की सुनते हैं. पार्टी के कई मंत्री, विधायक और जन प्रतिनिधि खुद को प्रताड़ित महसूस कर रहे हैं. मैंने नीतीश कुमार के साथ रहकर 10 साल बर्बाद कर दिए.

वहीं भूदेश चौधरी ने अंतिम क्षण में रालोसपा से अपना नाता तोड़ लिया था. रालोसपा से नाता तोड़तक वो रातों रात आरजेडी में शामिल हो गए थे. इन्हें भी तेजस्वी ने पार्टी की सदस्यता दिलायी थी. भूदेव चौधरी को साल 2000 में बिहार विधानसभा चुनाव में नीतीश कुमार ने बांका के धोरैया से मैदान में उतारा था. तब समता पार्टी के टिकट पर वे पहली बार चुनाव जीते थे. 2005 के विधानसभा चुनाव में वह जदयू के टिकट पर वहां से दूसरी बार चुनाव जीते.