झारखंड हाईकोर्ट में लालू यादव के बंगला शिफ्ट मामले में कल होगी सुनवाई

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : आरजेडी सुप्रीमो व पूर्व मुख्यमंत्री लालू यादव को रिम्स के पेइंग वार्ड से निदेशक बंगला और बंगला से वापस पेइंग वार्ड शिफ्ट करने के मामले पर शुक्रवार को झारखंड हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. हाईकोर्ट के पिछले आदेश के आलोक में झारखंड सरकार रिपोर्ट पेश कर कोर्ट को यह बताएगी कि लालू को पेइंग वार्ड से निदेशक बंगला में शिफ्ट करने का निर्णय किसका था? फिर बंगला से पेइंग वार्ड में उन्हें किसके आदेश से शिफ्ट किया गया? इतना ही नहीं, झारखंड कोर्ट ने लालू यादव को मिलने वाले सेवादार की नियुक्ति प्रक्रिया पर भी जानकारी मांगी है.

सरकार को यह बताने को कहा है कि सेवादार नियुक्त करने के लिए क्या प्रावधान है और कैसे उसका चयन किया जाता है. बता दें कि हाईकोर्ट ने पिछली सुनवाई में रिम्स से लालू यादव की मेडिकल रिपोर्ट और जेल प्रशासन से उनसे पिछले तीन माह में मिलने वाले लोगों की सूची देने को कहा था. जेल प्रशासन से यह भी जानकारी मांगी गई थी कि लोगों के लालू से मिलने में जेल मैनुअल का पालन किया गया है या नहीं.



बता दें कि लालू यादव चारा घोटाला मामले में सजायाफ्ता है. रांची रिम्स में उनका इलाज चल रहा है. झारखंड में चारा घोटाले के 5 मामले चल रहे हैं.चार मामले में उन्हें सजा सुनायी गयी है. चार मामलों में तीन में उन्हें आधी सजा काटने पर जमानत मिल गयी है. जबकि एक मामले में अभी सीबीआई कोर्ट में ट्रायल चल रहा है.

दुमका कोषागार अवैध निकासी मामले में जमानत याचिका सुनवाई टल गयी. आज होने वाली सुनवाई अब 6 सप्ताह बाद होगी. लालू के वकील की तरफ से सीबीआई के दावे का जवाब दाखिल करने के लिए समय की मांग की गयी. जिसपर कोर्ट ने 6 सप्ताह बाद सुनवाई की तिथि मुकर्रर कर दी.

लालू प्रसाद यादव के वकील प्रभात कुमार ने बताया की हमें सजा की अवधि का सर्टिफाइड कॉपी नहीं मिला है इसको लेकर उनकी तरफ से कोर्ट से 6 सप्ताह का समय मांग गया. वहीं  सीबीआई के वकील की माता जी का देहांत हो जाने के कारण उन्होंने भी कोर्ट से सुनवाई के लिए समय मांग लिया है. दोनों वकीलों के द्वारा समय की मांग करने पर कोर्ट ने इस मामले पर सुनवाई 6 सप्ताह के लिए बढ़ा दिया.