कल नीतीश सरकार से समर्थन वापस ले सकती हैं लोजपा ! चिराग ने पार्टी नेताओं की बुलायी आपात बैठक

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : बिहार एनडीए के लिए कल का दिन काफी अहम होने वाला है. एनडीए में लोजपा रहेगी या बाहर हो जाएगी इसका निर्णय कल हो सकता है.लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान 15 अगस्त को बड़ा फैसला करने वाले है. इसके लिए वो खुद दिल्ली से पटना पहुंच गए है.

लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने पटना स्थित पार्टी कार्यालय में सुबह 10 बजे आपात बैठक बुलायी है. पार्टी के साथियों के साथ आपात बैठक बुलायी है. जिसमें नीतीश सरकार से समर्थन वापस लेने तक की घोषणा की जा सकती है.



पटना एयरपोर्ट पर मीडिया से बात करते हुए चिराग पासवान ने जेडीयू सांसद ललन सिंह के कालिदास वाले बयान पर कहा कि वो मेरे अभिभावक है उनके बयान पर किसी प्रकार की प्रतिक्रिया नहीं दूंगा. बिहार के लोगों की शिकायत मैंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के पास पहुंचाने का प्रयास किया. लेकिन मेरे प्रयास को जेडीयू ने दूसरे अर्थों में लेने का काम किया. अगर लोगों की बातों को सीएम तक पहुंचाना गलत हैं तो मुझे इसपर कुछ भी नहीं कहना है.

पटना में पार्टी नेताओं की आपात बैठक बुलाने से पहले कल दिल्ली में चिराग पासवान ने बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की है. मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं के बीच क्या बातें हुए इसका तो खुलासा नहीं हो पाया है. लेकिन लोजपा जेडीयू के बीच जारी सियासी जंग में बीजेपी की चुप्पी को लेकर कई प्रकार के कयास लगाए जाने लगे है.

लोजपा जेडीयू के बीच रिश्ते इतने तल्ख हो गए हैं कि अब एक टेबल पर दोनों दलों का बैठना मुश्किल लगता दिख रहा है. कई मुद्दों पर दोनों ही पार्टियों की राय अलग-अलग है. समय समय पर चिराग और केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान मीडिया के सामने अपने विचार व्यक्त कर चुके है. चिराग द्वारा लगातार नीतीश कुमार को निशाना बनाए जाने से खफा जेडीयू ने भी लोजपा अध्यक्ष के खिलाफ मोर्चा खोल दिया. जिससे रिश्ते और तल्ख होते चले गए.

दोनों ही दलों के रिश्ते इतने खटास हो गए कि चिराग पासवान ने 15 अगस्त को ही पार्टी की आपात बैठक बुलायी है. जिसमें बड़ा फैसला होने की संभावना जतायी जा रही हैं.