एलजेपी को अलग चुनाव नहीं लड़ने देना चाहिए था, केसी त्यागी के इस बयान पर लोजपा ने दिया करारा जवाब…

लाइव सिटीज, सेंट्रल डेस्क : एलजेपी को अलग चुनाव नहीं लड़ने देना चाहिए था. केसी त्यागी के इस बयान पर लोजपा ने प्रतिक्रिया दी है. पार्टी प्रवक्ता अशरफ अंसारी ने केसी त्यागी के बयान को कोड करते हुए कहा कि यह अच्छी बात है कि जेडीयू को यह समझ में आ गयी. लोजपा के अलग चुनाव लड़ने से काफी छति हुई है. हमारी पार्टी ने अपने अपने एजेंडें पर चुनाव लड़ा. जिसका जनाधार भी बढ़ा.

उन्होंने कहा कि जेडीयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हार की समीक्षा हुई और एलजेपी के अलग लड़ने से जेडीयू को नुक़सान हुआ और एलजेपी को अलग से नहीं लड़ने देना चाहिए जैसी बात आदरणीय केसी त्यागी जी ने कही. उन्होंने कहा कि जेडीयू के साथीयों को इस बात का बोध हुआ कि यह अच्छी बात है. चुनाव पूर्व कई नेता जेडीयू के बोलते थे कि एलजेपी साथ में लड़े या अलग इससे कोई फर्क जेडीयू को नहीं पड़ता.



अशरफ अंसारी ने कहा कि एलजेपी सिर्फ़ बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के नाम पर चुनाव में गई थी. एलजेपी एक मात्र पार्टी है जो अपने विजन डॉक्यूमेंट के आधार पर चुनाव लड़ी और जनता से वोट मांगा और अकेले लड़ कर 24 लाख वोट पाया, अपना मत प्रतिशत भी बढ़ाया.

बता दें कि केसी त्यागी ने जेडीयू के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद प्रेस कांफ्रेस की थी, जिसमें उन्होंने बैठक के दौरान हुई बातों की चर्चा की. इस दौरान उन्होंने कहा था कि बिहार विधानसभा चुनाव में एलजेपी को अलग चुनाव नहीं लड़ने देना चाहिए था. एलजेपी अपने एजेंडो के बजाय प्रधानमंत्री के नाम पर चुनाव लड़ रही थी. जिसका खामियाजा भुगतना पड़ा.