पारा मेडिकल छात्रों के लिए 2 मिनट भी नहीं निकाल सके हेल्थ मिनिस्टर मंगल पांडेय

लाइव सिटीज, पटना (देवांशु प्रभात): एक तरफ विश्व अंगदान दिवस के मौके पर पीएमसीएच में बिहार के डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी और स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन कर रहे थे, तो दूसरी ओर कार्यक्रम समारोह के बाहर पीएमसीएच में पढ़ाई करने वाले पारा मेडिकल के छात्र और छात्रा प्रदर्शन कर रहे थे. इस बीच कार्यक्रम के दौरान ही स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, पारा मेडिकल के छात्र और छात्राओं को समझाने बाहर आए. छात्रों ने अपनी 7 मांगों को लेकर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय को ज्ञापन दिया. इस दौरान पारा मेडिकल के छात्र अपनी मांगों को लेकर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय के बात करना चाहते थे. तो स्वास्थ्य मंत्री  ने छात्रों को आगामी 16 अगस्त को मिलने का वक्त दिया.

वहीं, बिहार राज्य पारा मेडिकल छात्र संघर्ष समिति के संयोजक भारत भूषण ने लाइव सिटीज को बताया कि स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आगामी 16 अगस्त को मिलने का समय दिया है. इस दौरान हम उनके सामने अपनी मांगों को उठाएंगे. आखिर क्यों बिहार में पारा मेडिकल के 2 साल का कोर्स 5 साल में पूरा करवाया जाता है.

हम तीन बार भूख हड़ताल करते हैं, तो परीक्षा की तारीख का एलान किया जाता है और रिजल्ट के लिए 2 बार भूख हड़ताल करना पड़ता है, तब जाकर रिजल्ट आता है. और आज स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने आश्वासन दिया है कि वो आगामी 16 अगस्त को पारा मेडिकल के छात्रों से मिलेंगे.

पारा मेडिकल स्टूडेंट्स की मांग

1-बिहार पारा मेडिकल का एकेडमिक कैलेंडर जारी किया जाए
2-बिहार पारा मेडिकल कोर्स के छात्रों को नर्सिंग करने का मेहनताना दिया जाए
3-बिहार मेडिकल काउंसिल की तर्ज पर बिहार पारा मेडिकल काउंसिल का निर्माण किया जाए
4-बिहार के सभी मेडिकल कॉलेजों में पारा मेडिकल डिग्री कोर्स की शुरुआत की जाए
5-सभी मेडिकल कॉलेजों में पारा मेडिकल कोर्स में सभी विषयों की पढ़ाई संबंधित डिपार्टमेंट में हो
6- सभी पारा मेडिकल छात्रों को बुनियादी सुविधाएं दी जाए
7-बिहार के सभी मेडिकल कॉलेजों में Male GNM को प्रशिक्षण दिया जाए

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*